×
विज्ञापन

Franklin Kameny: कौन हैं अमेरिकी समलैंगिक कार्यकर्ता फ्रैंक कमेनी जिनका Google Doodle सेलिब्रेशन मना रहा है।

विज्ञापन

समलैंगिकता के अधिकारियों की लड़ाई लड़ने वाले फैंक कमेनी (Franklin Edward Kameny)का Google डूडल आज व्यापक रूप से सेलिब्रेशन मना रहा है। Google के होम पेज में Franklin Kameny की तस्वीर नज़र आ रही है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फ्रैंक कमेनी कौन थे और समाज के प्रति उनका क्या योगदान रहा। पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट(Google Doodle Celebrates American Gay Rights Fames Activist Frank Edward Kameny Latest Hindi News Today Biography)

Frank Kameny Biography: गूगल आज अमेरिकी समलैंगिक कार्यकर्ता फ्रैंक कमेनी का सेलिब्रेशन अपने Doodle पर मना रहा है। Frank Kameny ने अमेरिका में रहने वाले समलैंगिक लोगों के अधिकारों के लिए लंबी लड़ाई लड़ी। इनके आंदोलन को यूएस एल्जिबिटीक्यू अधिकार आंदोलन के आंकड़ों में सबसे प्रमुख माना जाता है। लेकिन इसके अलावा फ्रैंक कमेनी कौन थे ये भी जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। (Google Doodle Celebrates American Gay Rights Fames Activist Frank Edward Kameny Latest Hindi News Today Biography)

विज्ञापन
विज्ञापन

फ्रेंकलिन एडवर्ड कमेनी (Franklin Edward Kameny ) का जन्म सन 1925 में क्वींस न्यूयॉर्क में हुआ था। फ्रैंक एक खगोलशास्त्री सैनिक और समलैंगिक अधिकारों के कार्यकर्ता थे। बचपन से ही तीव्र बुद्धि के धनी फ्रैंक ने 15 वर्ष की आयु में भौतिक विज्ञान का अध्ययन करने के लिए क्वींस कॉलेज में दाखिला लिया। दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान उन्होंने सेना में सेवा भी लेकिन सेना छोड़ने के बाद वह फिर से क्वींस कॉलेज लौट आए और अपनी आगे की पढ़ाई करते हुए सन 1948 में भौतिकी में स्नातक की उपाधि हासिल की।

news-details

Franklin Edward Kameny फोटो गूगल साभार

इसके पश्चात उन्होंने 1949 में उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से खगोल विज्ञान में मास्टर डिग्री ली इसके बाद वहीं से खगोल विज्ञान में 1956 में डॉक्टरेट की उपाधि ही। उन्होंने जार्ज टाउन विश्वविद्यालय के खगोल विज्ञान विभाग में एक साल तक शिक्षण कार्य भी किया। सन 1957 में फ्रेंकलिन एडवर्ड कमेनी (Franklin Edward Kameny)ने अमेरिकी सरकार के खगोलशास्त्री के रूप में नौकरी कर ली।

लेकिन समलैंगिक होने के कारण उनको कुछ समय पश्चात नौकरी से निकाल दिया गया। इसके लिए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में इसका विरोध किया बताया जा रहा है कि उन्होंने सन1960 में अमेरिकी राष्ट्रपति के व्हाइट हाउस के बाहर समलैंगिक अधिकारों के विरोध में आंदोलन किया। 1965 में समलैंगिक अधिकारों का व्हाइट हाउस और पेंटागन में विरोध करने वाले वे पहले व्यक्ति बने। इसके साथ मे 70 के दशक में उन्होंने अमेरिकन साइकियाट्रिक एसोसिएशन के समलैंगिगता को मानसिक विकार के रूप में वर्गीकृत करने पर इसके लिए लम्बी लड़ाई लड़ी इसका परिणाम ये रहा कि 1975 में सिविल आयोग ने LGBTQ कर्मचारियों पर अपने प्रतिबंध को हटा दिया।

1971 में उन्होंने अमेरिकी कांग्रेस के रूप में पहली बार एक समलैंगिक उम्मीदवार के रूप में चुनाव भी लड़ा। Franklin Kameny को उनके जीवन के अंतिम वर्षों में समलैंगिक अधिकारों की लड़ाई लड़ने वाले अग्रणी शख्सियत के रूप में व्यापक रूप से पहचान मिली। जून 2010 मे वाशिंगटन डीसी ने उनके सम्मान में ड्यूपॉन्ट सर्कल के पास 17 वी स्ट्रीट एनडब्ल्यू के एक खंड का नाम "फ्रैंक कमेनी वे"रखा दिया। सन 2011 में 86 वर्ष की आयु में फ्रैंक कमेनी का निधन हो गया (Google Doodle Celebrates American Gay Rights Fames Activist Frank Edward Kameny Latest Hindi News Today Biography)

ये भी पढ़ें- Up Shiksha Mitra News: ट्वीटर पर टॉप ट्रेंड कर रहा है यूपी के शिक्षामित्रों का दर्द

ये भी पढ़ें- Surya Grahan 2021: साल का पहला सूर्य ग्रहण जून में जान लें Date औऱ Time


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।