×
विज्ञापन

UP CRIME:पड़ोसी के घर मोबाइल चार्जिंग औऱ फ़िर हर रात नोचते रहे दरिंदे.!

विज्ञापन

यूपी के फर्रुखाबाद ज़िले से रूह कंपा देने वाली वारदात सामने आई है..मंगलवार को स्थानीय थाने पहुँचीं पीड़िता ने जो आप बीती बताई है उसने हर किसी को झकझोर दिया है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फर्रुखाबाद:यूपी के फर्रुखाबाद ज़िले में मंगलवार को स्थानीय थाने शमसाबाद पर पहुँचीं एक लड़की ने शिकायती पत्र देते हुए पड़ोसी और उसके दोस्त पर ब्लैकमेल कर लगातार गैंगरेप करने का आरोप लगाया है।लड़की की शिकायत के आधार पर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।मामला प्रकास में आने के बाद पुलिस महकमे में भी हड़कम्प मचा हुआ है।

ये भी पढ़ें- फर्रूखाबाद:मुठभेड़ के बाद गिरफ्त में आया लूट को अंजाम देने वाला शातिर अपराधी..!

शमसाबाद थाना क्षेत्र के एक गाँव की रहने वाली युवती मंगलवार को स्थानीय थाने पर शिकायती पत्र लेकर पहुँचीं।उसने बताया कि बीते 30 नवम्बर की शाम उसके घर की लाइट खराब होने के चलते वह पड़ोसी सूर्यप्रताप उर्फ़ रीशू के यहां अपना मोबाइल चार्जिंग में लगाया था।पीड़िता के आरोपों के मुताबिक़ पड़ोसी रीशू ने उसके मोबाइल पर पड़े हुए कुछ प्राइवेट फ़ोटो देख लिए औऱ उन्हें अपने मोबाइल पर ट्रांसफर कर लिया औऱ फ़िर वह उन्ही फ़ोटो को दिखा ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें- फर्रुखाबाद:घर में लगी आग से पति पत्नी औऱ बेटी बुरी तरह झुलसे.दरोगा ने जान जोख़िम में डाल घायलों को निकाला.!

पीड़िता ने बताया कि रीशू ने अपने दोस्त धर्मेंद्र के साथ मिलकर उसके साथ फोटो वायरल करने की धमकी देकर रेप किया।औऱ दस हज़ार रुपए भी ले लिए। farrukhabad news

पीड़िता ने बताया कि पड़ोसी सूर्यप्रताप उर्फ़ रीशू अपने दोस्त धर्मेंद्र के साथ रोज रात को मेरे घर आता था और मेरी दादी को नशीली दवाएं खिलाकर बेहोश कर देता था।औऱ फ़िर दोनों पूरी पूरी रात मेरे साथ बलात्कार करते थे। farrukhabad crime news

बीते तीन दिसम्बर को दोनों आरोपी मेरे घर से मुझे धमकाकर मेरी मां के आभूषण जिनकी कीमत क़रीब चार लाख रुपये थी ले गए।और अब दो लाख रुपए की मांग कर रहें हैं न देने पर फ़ोटो वायरल करने की धमकी दे रहें हैं।

ये भी पढ़ें- फर्रुखाबाद:परिजन लगा रहे हत्या का आरोप..पुलिस बता रही है सड़क हादसा.!

इस मामले में सीओ कायमगंज राजवीर सिंह गौर ने बताया कि गाँव पहुँच जाँच पड़ताल की गई है।पूरे प्रकरण की गहनता से जाँच कर मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।