पुलवामा हमले के पूरे एक साल बाद भी अनसुलझे हैं ये सवाल..!

पुलवामा आतंकी हमले की आज पहली बरसी है।आज से ठीक एक साल पहले..यानी 14 फ़रवरी 2019 को सीआरपीएफ के जवानों से भरी एम बस को आतंकियों ने उड़ा दिया था..इस हमले में 40 जवान शहीद हुए थे..पढ़े युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट।

पुलवामा हमले के पूरे एक साल बाद भी अनसुलझे हैं ये सवाल..!
फ़ाइल फ़ोटो साभार गूगल

डेस्क:पुलवामा हमले की पहली बरसी पर शुक्रवार को पूरे देश भर में हमले में शहीद हुए जवानों की शहादत को नम आँखों के साथ याद किया जा रहा है।लेक़िन हमले की जांच कर रही एनआईए अभी भी कई सवालों के जवाब नहीं पता कर सकी है।हमले को लेकर आम लोगों के मन में भी कई सवाल थे जो अब तक सुलझ नहीं सके हैं।

नवभारत टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार पुलवामा आतंकी हमले की जांच कर रही एनआईए अभी तक यह पता नहीं लगा सकी है कि आत्‍मघाती हम हमलावर ने कार में रखने के लिए इतने उच्‍च कोटि के विस्‍फोटक को कहां से हासिल किया।

पुलवामा हमले की जांच कई समस्‍याओं में घ‍िरी रही। हालत यह रही कि एनआईए चार्जशीट फाइल नहीं कर सकी क्‍योंकि हमले के सभी संदिग्‍धों की मौत हो गई है। इस हमले के दो संदिग्‍ध मुदसिर अहमद और सज्‍जाद भट की पिछले साल सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मौत हो गई। पिछले साल जून में केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री जी किशन रेड्डी ने राज्‍यसभा में कहा था कि पुलवामा हमला 'खूफिया तंत्र की चूक' नहीं है।

द हिंदू ने अपनी रिपोर्ट में एक सरकारी अधिकारी के हवाले से कहा कि विस्‍फोटकों को खुद से खरीदा नहीं जा सकता है। उन्‍होंने कहा, 'ये युद्ध में इस्‍तेमाल होने वाले विस्‍फोटक आमतौर पर सैन्‍य ठिकानों पर पाए जाते हैं।' फरेंसिक विशेषज्ञों की रिपोर्ट के मुताबिक पुलवामा हमले में 25 किलो प्‍लास्टिक विस्‍फोटक का इस्‍तेमाल किया गया था। एनआईए के एक अधिकारी ने कहा कि जिन विस्‍फोटकों को कार में रखा गया था, उनमें अमोनियम नाइट्रेट, नाइट्रोग्‍लीसरीन और आरडीएक्‍स शामिल था।' 

Read More: Amrit Bal Yojana LIC Benefits: एलआईसी की अमृत बाल योजना से कितना मिलेगा लाभ ! बच्चों की पढ़ाई और शादी का बेहतरीन प्लान

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur News: फतेहपुर की मोहिनी ने तोड़ दिया दम ! दो घंटे बिना इलाज के डॉक्टरों ने रोका, फिर किया रैफर Fatehpur News: फतेहपुर की मोहिनी ने तोड़ दिया दम ! दो घंटे बिना इलाज के डॉक्टरों ने रोका, फिर किया रैफर
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में एक सात वर्षीय मासूम ने इलाज के अभाव में जिला अस्पताल में...
Fatehpur News Today: फतेहपुर के पिछड़े गांव का बेटा सेना में बना लेफ्टिनेंट ! किसान पिता के छलके आंसू
Pradeep Mishra Radha Rani Controversy: राधा रानी टिप्पणी पर फंसे कथावाचक प्रदीप मिश्रा ! Premanand Maharaj ने दिया करारा जवाब
NEET 2024 NTA Supreme Court Judgment In Hindi: नीट परीक्षा 2024 के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये निर्णय ! अब बदल जाएगी मेरिट लिस्ट
Fatehpur News: फतेहपुर में नलकूप पर सो रहे किसान की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत ! पास में पड़ीं थीं बोतले, शरीर नीला था
Fatehpur Local News: फतेहपुर में ट्रक की टक्कर से दो की मौ'त ! रात भर रौंदते रहे वाहन
Modi Cabinet 3.O List 2024: नरेंद्र मोदी के कैबिनेट में किसको मिला कौन सा मंत्रालय ! यूपी के इस नेता को मिली महत्वपूर्ण जगह

Follow Us