Sculptor Arun Yogiraj News: मूर्तिकार अरुण योगिराज बोले ! एक पल के लिये लगा बदल गयी मूर्ति, कहा मैं बहुत भाग्यशाली हूँ, बंदर वाला बताया किस्सा

Ram Lala Yogiraj News

कर्नाटक के मूर्तिकार (Sculptor) अरुण योगिराज को आज पूरी दुनिया में चर्चा है. अयोध्या में राम लला (Ram Lala) की प्रतिमा को 7 माह में तैयार किया. खास बात यह है कि नए महल में मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के बाद मूर्ति का अलग ही स्वरूप दिखाई दे रहा है. यह बात खुद मूर्तिकार अरुण ने कही है. अरुण योगिराज खुद अचंभित है और इसे दैवीय चमत्कार (God Miracle) ही समझ रहे हैं.

Sculptor Arun Yogiraj News: मूर्तिकार अरुण योगिराज बोले ! एक पल के लिये लगा बदल गयी मूर्ति, कहा मैं बहुत भाग्यशाली हूँ, बंदर वाला बताया किस्सा
मूर्तिकार, अरुण योगिराज, फोटो साभार सोशल मीडिया

रामलला की मूर्ति बनाने वाले अरुण योगिराज अचंभित

अयोध्या में नए भव्य राम मंदिर में राम लला 'बालक राम' के रूप में विराज गए. 22 जनवरी को बालक राम (Balak Ram) की प्राण प्रतिष्ठा (Pran Pratistha) विधि विधान से सम्पन्न हुई. जय श्री राम के जयकारों से रामनगरी गूंज उठी. 51 इंच की बालक रूप में राम लला की प्रतिमा बनाने वाले कर्नाटक के मूर्तिकार (Sculptor) अरुण योगिराज ने इस मूर्ति को बनाने के लिए क्या कुछ नहीं किया. वे अपने साथियों से पूछा करते थे. यह मूर्ति लोगों को पसन्द आएगी की नहीं, प्राण प्रतिष्ठा होते ही जैसे ही मूर्ति सबके सामने आई. मानो साक्षात प्रभू की अनुभूति हो रही हो. वो तेज, वो मुस्कान स्वरूप ही बड़ा अलग था.

मूर्तिकार ने कहा मैं बहुत भाग्यशाली हूँ

अरुण ने एक चैनल को बताया कि उन्होंने किस तरह से एक 5 साल के बच्चे के चेहरे के भाव को समझते हुए इस मूर्ति पर 7 माह तक काम किया. यह सब राम जी की कृपा ही है जो आज देश के लोगों को मूर्ति पसन्द आ रही है. मूर्ति बनाने के समय पर काफी समय बच्चों के साथ बिताया. 7 साल की बेटी को फोटो दिखाया कि कैसी मूर्ति लग रही है, बेटी ने कहा बिल्कुल बच्चा जैसा ही है अप्पा, अरुण कहते हैं कि राम लला ने जो आदेश दिया वह मैंने किया. अरुण योगिराज अपने आप को बहुत भाग्यशाली मानते हैं.

गर्भगृह में मूर्ति की बदल गयी आभा

यह भी बताया कि बालक राम के दर्शन करने पहुंचा तो एकपल के लिए लगा कि यह मूर्ति मैंने नहीं बनाई है. दरअसल उनके भाव दर्शन कर ऐसे हो गए थे कि मानो सामने भगवान का सुंदर स्वरूप उनके सामने ही हो. गर्भगृह में स्थापित और प्राण प्रतिष्ठा होने के बाद मूर्ति में अलग तेज देखा. जैसे भगवान ने अलग रूप ले लिया हो. यह सब प्रभू का ही चमत्कार है. आज मैं बेहद खुश हूं कि मुझे प्रभू ने चुना. यह रामलला की कृपा ही है जो पूरा देश मूर्ति को इतना पसंद कर रहा है. 

बताया ये किस्सा शाम के वक्त आता था बंदर

उन्होंने यह भी बताया कि जब वे मूर्ति बना रहे थे तो हर रोज शाम के वक्त करीब 4 से 5 के बीच एक बंदर वहां आ जाता था. हम समझ नहीं पाते, फिर चंपत राय जी को यह बात बताई और दरवाजा बंद कराया. एकदिन दरवाजे पर जोर-जोर से खटखटाने की आवाज आने लगी. दरवाजा खोला तो बंदर खड़ा था. शायद उनका प्रभू को देखने का मन हो. तबसे दरवाजा बंद नही किया. शायद प्रभू की कोई इच्छा हो.

Read More: Premanand Maharaj Motivational Quotes: दरवाजे पर आए भिखारी यदि पैसे की मांग करे तो क्या करें ! प्रेमानन्द महाराज ने दिया जवाब

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व
Somnath jyotirlinga Story: ज्योर्लिगप्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में से गुजरात के सोमनाथ मंदिर की अद्भुत महिमा है. कई बार आक्रमण करके...
Fatehpur News: फतेहपुर में क्यों हो रही है हिंदू महापंचायत ! हजारों की संख्या में पहुंचने का अनुमान
Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत
Fatehpur Brajesh Pathak: फतेहपुर पहुंचे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक क्यों भड़क उठे ! एक दिन का काटा वेतन
फतेहपुर थाना न्यूज़: मां-बेटे ने मिलकर पिता को लगाया 50 लाख का चूना ! तिकड़म जान कर रह जाएंगे भौचक्के
Fatehpur News: फतेहपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौ'त ! परिजनों ने लगाया ह'त्या का आरोप
UPSC EPFO APFC Result 2024: फतेहपुर की विप्लवी बनी असिस्टेंट कमिश्नर ! गांव में ख़ुशी की लहर, जानिए लोगों ने क्या कहा

Follow Us