India Protest Manipur Violence : मणिपुर मामले पर INDIA का संसद भवन के बाहर प्रदर्शन,प्रधानमंत्री पहले संसद में दें बयान,फिर होगी चर्चा

मणिपुर में दो महिलाओं के साथ दरिंदगी के बाद विपक्ष का गठबंधन india लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान और विस्तृत चर्चा की मांग कर रहा है. विपक्ष ने संसद भवन के बाहर मणिपुर मामले को लेकर जमकर प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की.और प्रधानमंत्री से बयान देने की मांग की .

India Protest Manipur Violence : मणिपुर मामले पर INDIA का संसद भवन के बाहर प्रदर्शन,प्रधानमंत्री पहले संसद में दें बयान,फिर होगी चर्चा
मणिपुर मामले पर विपक्ष india का संसद के बहार प्रदर्शन

हाईलाइट्स

  • मणिपुर दरिंदगी मामले में विपक्ष का संसद भवन के बाहर प्रदर्शन
  • प्रधानमंत्री मोदी संसद भवन में आकर दें बयान,267 रूल पर हो चर्चा
  • कांग्रेस के नेताओ ने कहा बात करें पहले पीएम संसद में आकर दें बयान

Pm should come to Parliament and give statement : मणिपुर में हुई हैवानियत के बाद सड़कों से लेकर संसद तक विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है.विपक्ष india लगातार प्रधानमंत्री मोदी से संसद में बयान देने की मांग पर अड़ा हुआ है.आज भी संसद भवन स्थित गांधी प्रतिमा पर विपक्ष के सांसदों ने विरोध प्रदर्शन कर अपना आक्रोश जताया. जिसके बाद विपक्षी शीर्ष नेताओं की कई प्रतिक्रियाएं सामने आई हैं.

India की मांग पीएम मोदी संसद में दे पहले बयान

दरअसल मणिपुर में दो महिलाओं के साथ हुई दरिंदगी मामले पर विपक्ष गठबन्धन india सरकार को घेर रहा है.कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे ने कहा कि 140 करोड़ जनता के नेता बाहर मीडिया को बयान दे रहे हैं. सारे जनप्रतिनिधि संसद में बैठे हैं.वे अपना बयान सबके सामने आकर दें,उसके बाद हम अपना एक निर्णय लेंगे.

विपक्ष की मांग 267 रूल के तहत संसद में हो चर्चा

Read More: Swami Prasad Maurya Statement: सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बिगड़े बोल ! हिन्दू धर्म को बताया 'धोखा', सांसद DIMPLE YADAV ने कहा ऐसे समाजवादी पार्टी के विचार नहीं

विपक्ष का गठबंधन india चाहता है, कि रूल 267 के तहत बात की जाए.आपको बताना चाहेंगे कि 267 वह रूल होता है. जिसमें सारे कार्यो को रोक दिया जाता है.केवल एक प्रकरण पर ही चर्चा होती है.जबतक पूरी बहस नहीं होती तबतक कोई दूसरा प्रकरण नहीं लाया जाता.वहीं सरकार चाहती है केवल शार्ट ड्यूरेशन में ही चर्चा हो.उनका कहना है कि पहले प्रधानमंत्री जी का विस्तृत बयान हो.फिर 267 के तहत संसद में बहस हो.

Read More: Acharya Pramod Krishnam News: पार्टी विरोधी बयानबाजी को लेकर चर्चा में आये आचार्य प्रमोद कृष्णम पर गिरी गाज ! कांग्रेस ने 6 साल के लिए किया निष्कासित, अब क्या भाजपा में शामिल होंगे आचार्य?

प्रधानमंत्री को दोनों सदनों में देना चाहिए व्यापक बयान

Read More: Jharkhand Cm Champai Soren: काफी उठापटक के बाद 'चम्पई सोरेन' ने झारखंड के 12 वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ ! 10 दिन के अंदर बहुमत करना होगा सिद्ध

कांग्रेस के शीर्ष नेता जय राम रमेश व सांसद मनीष तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी को दोनों सदनों में व्यापक बयान देना चाहिए.जिसके बाद इस गम्भीर मुद्दे पर विस्तृत रूप से चर्चा हो.उधर संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा हम इस प्रकरण पर लगातार बात करने को विपक्ष से कह रहे हैं. लेकिन पता नहीं विपक्ष बात करने से क्यों कतरा रहा है.हम आज भी इस गम्भीर प्रकरण पर बात करने को तैयार हैं.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Jani Jani Pila De Pani Viral Video: जानी जानी पीला दे पानी गाने वाला कौन है बुजुर्ग ! सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो Jani Jani Pila De Pani Viral Video: जानी जानी पीला दे पानी गाने वाला कौन है बुजुर्ग ! सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो
सोशल मीडिया (Social Media) पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल (Viral) हो रहा है. जिस तरह से एक...
Hathras Crime In Hindi: शादी समारोह में बारातियों पर फूल बरसाने आई नाबालिग के साथ तंदूर में लगे कर्मचारियों ने की हैवानियत ! पीड़िता सदमे में
Noida News: टेस्ट ड्राइव के बहाने 'थार' लेकर फरार हुआ शातिर चोर ! पुलिस ने रणनीति बनाते हुए धर दबोचा
Jhansi Wedding News: घर से संपन्न होने के बावजूद नई नवेली दुल्हन को बैलगाड़ी पर विदा कर ले जा रहा दूल्हा ! कारण जानकर हैरान रह जाएंगे आप
Modi Ka Parivar: पहले लालू का पीएम मोदी पर प्रहार ! फिर मोदी का लालू पर पलटवार, 2024 में कितना भारी पड़ेगा 'मोदी का परिवार' ?
Vote For Note Case: 'वोट के बदले नोट' मामले पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला ! सांसदों और विधायकों को नहीं मिलेगी कानूनी छूट, रिश्वत लेने पर चलेगा मुकदमा
Premanand Maharaj ji: भक्त ने सवाल किया महाराज मृत्यु भोज करना चाहिए या नहीं ! प्रेमानन्द महाराज जी ने बताई ये बात

Follow Us