×
विज्ञापन

हाथरस कांड से जुड़ी बड़ी ख़बर..राहुल औऱ प्रियंका गाँधी पैदल ही हाथरस के लिए निकले..यूपी पुलिस ने किया लाठीचार्ज.!

विज्ञापन

राहुल गांधी औऱ प्रियंका गांधी गुरुवार को दिल्ली से हाथरस के लिए निकले हैं..लेक़िन उनके काफिले को नोएडा में यूपी पुलिस द्वारा रोक दिया गया है..जहाँ से वह पैदल चल पड़े हैं..पढें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

डेस्क:यूपी का हाथरस कांड इस वक़्त पूरे देश में चर्चा में है।गुरुवार को पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस जा रहे कांग्रेस के राहुल गाँधी व प्रियंका गांधी के काफिले को यूपी पुलिस द्वारा नोएडा के यमुना एक्सप्रेस वे पर रोक लिया गया है।

ये भी पढ़ें-हाथरस गैंगरेप:पीड़िता की मौत पर देश भर में उबाल..दरिंदो ने तोड़ दी थी क़मर.काट ली थी ज़बान.!

दोनों नेता वहां से पार्टी  कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही चल पड़ें हैं।नोएडा से हाथरस की दूरी क़रीब 150 किलोमीटर है।ऐसे में राहुल व प्रियंका यह सफ़र पैदल कैसे तय कर पाएंगी ये भी अपने आप में बड़ा सवाल है।Hathras case rahul gandhi 

यमुना एक्सप्रेस वे पर भारी पुलिस बल की मौजूदगी है।पुलिस लगातार दोनों नेताओं को आगे बढ़ने से रोक रही है।कांग्रेसी नारेबाजी करते हुए आगे बढ़ रहें हैं।पुलिस द्वारा कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज की गई है।राहुल गांधी से बदसलूकी की गई है।

ये भी पढ़ें-UP:बलरामपुर में गैंगरेप के बाद छात्रा की हत्या..आधी रात को जलाई गई चिता.!

राहुल  गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि-"हाथरस जाने से हमें रोका। राहुल जी के साथ हम सब पैदल निकले तो बारबार हमें रोका गया, बर्बर ढंग से लाठियाँ चलाईं। कई कार्यकर्ता घायल हैं। मगर हमारा इरादा पक्का है। एक अहंकारी सरकार की लाठियाँ हमें रोक नहीं सकतीं। काश यही लाठियाँ, यही पुलिस हाथरस की दलित बेटी की रक्षा में खड़ी होती।"Hathras gang rape updates

ये भी पढ़ें-हाथरस गैंगरेप:आधी रात को जो हुआ उसने योगी सरकार की छीछालेदर करा दी है..जगह जगह शुरू हैं प्रदर्शन.!

राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि-‘अभी पुलिस वालों ने मुझे धकेल के लाठी मारकर गिराया ठीक है, मैं कुछ नहीं कह रहा हूं, कोई प्रॉब्लम नहीं।इस हिंदुस्तान में क्या RSS और BJP के लोग ही पैदल चल सकते हैं, कोई आम आदमी नहीं चल सकता?’


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।