×
विज्ञापन

सूर्य ग्रहण 2020:ग्रहण के दौरान इन कामों को भूलकर भी न करें..नुकसान हो सकता है..!

विज्ञापन

सूर्य ग्रहण शुरू हो चुका है।इसे साल का सबसे लम्बा सूर्यग्रहण बताया जा रहा है..इस ग्रहण काल के दौरान क्या नहीं करना चाहिए..आइए जानते हैं युगान्तर प्रवाह की इस रिपोर्ट में..

डेस्क:सूर्य ग्रहण का काल रविवार को सुबह 9:15 से शुरू हो गया है।भारतीय समय के अनुसार मुताबिक आंशिक सूर्य ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर आरंभ होगा, जबकि पूर्ण सूर्य ग्रहण की अवस्था सुबह 10 बजकर 17 मिनट पर शुरू होगी। दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर सूर्य ग्रहण अपने सबसे अधिक प्रभाव में होगा, इसके बाद इसकी आंशिक अवस्था दोपहर को 3 बजकर 4 मिनट पर समाप्त होगी।

ग्रहण के दौरान क्या करें और न करें..

1-ग्रहण काल में भूलकर भी खान-पान, शोर मचाना या किसी भी तरह का शुभ कार्य जैसे कि पूजा-पाठ आदि नहीं करना चाहिए।

2-हालांकि, आप चाहें तो इस दौरान गुरु मंत्र का जाप, किसी भी मंत्र की सिद्धी, रामायण, सुंदरकांड का पाठ आदि कर सकते हैं।

3-सूतक लगने के बाद गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए।ग्रहण काल में सूर्य की पराबैंगनी किरणे निकलती हैं।यह किरणें गर्भस्थ शिशु के लिए हानिकारक होती हैं।

4-ग्रहण खत्म हो जाने के बाद पविक्ष नदियों में स्नान कर के शुद्धिकरण कर लेना चाहिए।

5-सूतक लगने से पहले घर में मौजूद खाने की सभी चीजों में तुलसी के पत्ते या फिर घांस डाल देनी चाहिए।

6-साथ ही घर के मंदिर को सूतक लगने से पहले ही पर्द से ढक दें या फिर उसके कपाट बंद कर दें।

7-माना जाता है कि ग्रहण खत्म होने के बाद मन की शुद्धी के लिए दान-पुण्य करना चाहिए।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।