×
विज्ञापन

Delhi Cantt Girl Case: नौ साल की बच्ची के मौत का मामला गर्माया दुष्कर्म औऱ ज़बरन शव जलाने का आरोप न्याय के लिए सड़कों पर इकठ्ठा हुए लोग

विज्ञापन

दिल्ली के कैंट इलाक़े में एक शमसान में हुई नौ साल की बच्ची के मौत का मामला सुर्खियों में आ गया है।लोग न्याय के लिए सड़कों पर जमा होकर दोषियों के लिए फाँसी की माँग कर रहें हैं.क्या है पूरा मामला पढ़ें युगान्तर प्रवाह की रिपोर्ट. Delhi cantt girl rape murder case latest news in hindi

Delhi Cantt Girl Case: दिल्ली के कैंट इलाक़े में बीते रविवार को हुई 9 साल की बच्ची के मौत का मामला सुर्खियों में आ गया है। लोग न्याय की मांग करते हुए सड़कों पर इकठ्ठा हो रहें हैं औऱ दोषियों के लिए फांसी की मांग कर रहें हैं पुलिस ने मामले में चार लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है। मंगलवार को भीम आर्मी चीफ़ चंद्रशेखर मौक़े पर पहुँच रहें हैं।ट्वीटर पर #justicefordelhicanttgirl ट्रेंड हो रहा है।

विज्ञापन
विज्ञापन

क्या है मामला..

दिल्ली कैंट थाना इलाके के पुरानी नांगल में 9 साल की एक बच्ची की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी।आरोप है कि बच्ची का श्मशान घाट के अंदर रेप कर उसे जिंदा जला दिया गया। आरोप श्मशान घाट के मुख्य कर्मचारी और तीन दूसरे लोगों पर है। इस मामले में शुरुआत में पुलिस ने लापरवाही से मौत, सबूत मिटाने और परिजनों को बिना बताए शव का अंतिम संस्कार करने जैसे मामलों में मुकदमा दर्ज किया था। सोमवार शाम को मामले में एससी-एसटी कमिशन के साथ हुई मीटिंग के बाद पुलिस ने गैंगरेप, हत्या, पॉक्सो, एससी-एसटी एक्ट और जान से मारने की धमकी देने समेत कई धाराएं भी जोड़ दी हैं।पुलिस का कहना है कि बच्ची की मौत जरूर संदिग्ध है, लेकिन जिंदा जलाने वाली कोई बात नहीं है।

परिजनों ने आरोप लगाया है कि उनकी बच्ची के शव को उसके माता-पिता की सहमति के बिना ही कथित तौर पर श्मशान घाट में जला दिया गया। आरोप श्मशान घाट के पंडित और वहां पर काम करने वाले दो-तीन लोगों पर है। इस मामले को लेकर गांव के सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन भी किया। पुलिस के खिलाफ नारेबाजी भी की गई।

ये भी पढ़ें- Kushinagar Gang rape: नाबालिग के साथ सात युवकों ने किया रेप वीडियो वायरल

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: दर्जनों गांवों को हाईवे से जोड़ने वाला मुख्य मार्ग कई सालों से ध्वस्त बरसात में दलदल


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।