×
विज्ञापन

कानपुर कांड:घटना के बाद फतेहपुर आया था,विकास दुबे का सबसे भरोसेमंद साथी बब्बन..!

विज्ञापन

दुर्दांत विकास दुबे को अब तक पुलिस खोज नहीं पाई है।विकास का सबसे भरोसेमंद साथी और गनर बताया जा रहा बब्बन शुक्ला भी अब तक पुलिस की पहुँच से दूर है..इस बीच खबर आई है कि बब्बन घटना के बाद फतेहपुर ज़िले पहुँचा था.पढ़े पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर।

फतेहपुर:विकास दुबे के गनर बब्बन शुक्ला के फतेहपुर जनपद की सीमा में घुसे होने की सूचना के बाद दो दिन पहले कानपुर पुलिस की टीमें कल्याणपुर थाना क्षेत्र के भाऊपुर गाँव पहुँची थीं।हालांकि पुलिस के पहुँचने के पहले ही बब्बन वहाँ से गंगा कटरी से होते हुए उन्नाव की तरफ़ निकल गया था ऐसा बताया जा रहा है!पुलिस भाउपुर से दो लोगों को पूछताछ के लिए कानपुर लेकर गई थी।जिसके बाद सोमवार आधी रात भाऊपुर से एक और व्यक्ति को कानपुर एसटीएफ की टीम उठा ले गई है।

ये भी पढ़ें-कानपुर कांड:फतेहपुर से दो संदिग्धों को पुलिस ने उठाया..भारी पुलिस बल इलाक़े में रहा मौजूद..!

दरअसल बब्बन शुक्ला की भाउपुर गाँव में रिश्तेदारी है।वहीं वह घटना के बाद छिपने के लिए आया था।कानपुर एसटीएफ टीम को बब्बन की लोकेशन मिली थी।लेकिन टीमें जब तक पहुँचती बब्बन वहाँ से गायब हो चुका था।बब्बन के दो रिश्तेदारों को कानपुर पुलिस पूछताछ के लिए लेकर गई थी।बताया जा रहा है पूछताछ में हिरासत में लिए गए व्यक्तियों ने क़बूल किया है उसके चाचा ने बब्बन को वहाँ से फरार कराने में मदद की है!

ये भी पढ़ें-UP:हमीरपुर में 12 घण्टों के भीतर दूसरी मुठभेड़ 50 हज़ार का इनामिया गिरफ्तार..!

बब्बन के फतेहपुर उन्नाव सीमा में छिपे होने की आशंका अभी भी जताई जा रही है।जिसके चलते पूरे इलाके में भारी स्थानीय पुलिस बल की मौजूदगी है।गंगा कटरी इलाके में पुलिस की लगातार कांबिंग जारी है।लेकिन बब्बन अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।