oak public school

Vikas dubey:बिकरु कांड का ये सच जो अब आया है सामने

कानपुर के बिकरु गाँव में 2-3 जुलाई की रात विकास दुबे औऱ उसके साथियों द्वारा सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों को गोलियों से भून दिया गया था इस जघन्य कांड का वो सच जो व्यक्ति जानना चाहता था उसके रहस्य से पर्दा एसटीएफ़ ने उठा दिया है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

Vikas dubey:बिकरु कांड का ये सच जो अब आया है सामने
एसटीएफ़ द्वारा गिरफ्तार किए गए मददगार।

लखनऊ:कानपुर के बिकरु गाँव में साल 2020 की 2-3 जुलाई की रात जो कुछ हुआ उसने यूपी ही नहीं पूरे देश को हिला दिया था।विकास दुबे नाम के एक अपराधी द्वारा अपने साथियों संग मिलकर एक दो नहीं आठ पुलिसकर्मियों की ताबड़तोड़ गोलियां बरसा हत्या कर दी गई थी।इस कांड के बाद पुलिस की तरफ़ से कार्यवाही करते हुए घटना के आठवें दिन विकास दुबे को एनकाउंटर में मार गिराया गया था उसके पहले उसके लगभग सभी प्रमुख साथी भी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए थे।लेकिन अब तक इस बात का पता नही चल पाया था कि विकास दुबे औऱ उसके सबसे प्रमुख गुर्गे अमर दुबे औऱ प्रभात मिश्रा को घटना के बाद कंहा छिपे रहे औऱ किन लोगों ने इनकी मदद की थी।इस रहस्य का पर्दाफाश एसटीएफ द्वारा अब किया गया है।Vikas dubey news

कौन थे मददगार..

एसटीएफ ने विकास दुबे औऱ उसके साथियों को घटना के बाद भगाने में मदद औऱ पनाह देने वाले वालों को गिरफ्तार किया तो पूरा सच सामने आ गया।पूछताछ में एसटीएफ को पता चला कि विष्णु कश्यप विकास के गुर्गे प्रभात मिश्रा (एनकाउंटर में मारा गया) का बचपन का दोस्त था। 3 जुलाई की रात 3:04 बजे प्रभात ने विष्णु को फोन कर शिवली में पांडु नदी पुल के पास बुलाया। उस वक्त विष्णु को घटना के बारे में जानकारी नहीं थी। प्रभात भी वहां अकेला खड़ा था। प्रभात से मुलाकात के बाद उसने बिकरू में हुई घटना की जानकारी दी। साथ ही उसे कार, तीन गमछे और पानी की बोतलों का इंतजाम करने के लिए कहा। विष्णु बाइक से वापस शिवली चला गया और मित्र छोटू की स्विफ्ट डिजायर कार लेकर शिवली रोड स्थित कैलई रोड तिराहा पहुंचा। पुल के पास से विकास दुबे, प्रभात और अमर कैलई रोड तिराहा पहुंचे और छिप गए। जब विष्णु कार लेकर पहुंचा तो तीनों झाडि़यों से निकलकर कार में सवार हो गए। विष्णु उन्हें लेकर सीधे तुलसीनगर रसूलाबाद निवासी अपने बहनोई रामजी उर्फ राधे के घर ले गया। उसके बाद छोटू अपनी कार लेकर वापस चला आया।Bikaru case

राधे के घर में बेसमेंट बना है। तीनों आरोपित 3 जुलाई की दोपहर एक बजे तक उसमें छिपे रहे। उसी दिन रामजी उर्फ राधे ने अमर दुबे (एनकाउंटर में मारा गया) को अपनी बाइक पर बैठाया और  गांव करियाझाला में संजय परिहार उर्फ टिंकू की बगिया में पहुंचा। वहां अमर की मुलाकात संजय परिहार उर्फ टिंकू, अभिनव तिवारी उर्फ चिंकू, अर्पित मिश्रा उर्फ पुत्तू, विक्की यादव, अमन शुक्ला और मोहन अवस्थी से हुई। अमर ने पुत्तू को अलग बुलाया और उसे कहीं रुकने का इंतजाम कराने के लिए कहा। पुत्तू ने उसे अपने खेत पर ट्यूबवेल पंप के पास रुकवा दिया। vikas dubey farari

Read More: Tragic Accident In Pilibhit: ईद के दिन बड़ा ही दुःखद हादसा ! नमाज़ पढ़ने जा रहे थे सभी, डंफर की टक्कर से 5 लोगों की मौत के बाद घर में छाया मातम

विकास लगातार खबरें पढ़ और सुन रहा था। इसी के आधार पर उसने फरारी का तानाबाना बुना। 5 जुलाई को शिवम पाल ने अपनी वैन से तीनों को औरैया जाकर छोड़ा।वहां से तीनों फरीदाबाद निकल गए थे।

Read More: Ghaziabad Crime In Hindi: व्यापार में हुए घाटे से परेशान युवक ने पत्नी और बेटे को उतारा मौत के घाट ! खुद भी किया सुसाइड करने का प्रयास

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Salman Khan News: बान्द्रा स्थित भाईजान (SALMAN KHAN) के घर के बाहर शूटरों ने झोंके 3 राउंड फायर ! शूटरों का क्या था मकसद, घर की बढ़ाई गई सुरक्षा Salman Khan News: बान्द्रा स्थित भाईजान (SALMAN KHAN) के घर के बाहर शूटरों ने झोंके 3 राउंड फायर ! शूटरों का क्या था मकसद, घर की बढ़ाई गई सुरक्षा
बॉलीवुड के फेमस एक्टर भाईजान सलमान ख़ान (Salman Khan) के मुम्बई बान्द्रा स्थित आवास के बाहर से सनसनीखेज खबर (Sensational...
Fatehpur Shikha Tripathi: फतेहपुर के नलकूप ऑपरेटर की बेटी शिखा त्रिपाठी बनी वैज्ञानिक ! गरीबी नहीं रोक पाई हौसले की उड़ान
Kanpur Crime In Hindi: लग्जरी होटल के कमरे में चल रहा था सट्टे का बड़ा खेल ! विदेश से कौन कर रहा था इन्हें फंडिंग, पुलिस ने भंडाफोड़ करते हुए 3 को किया गिरफ्तार
Lsd 2 Trailer Released: बोल्डनेस के तड़के के साथ लव, सेक्स और धोखा 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज ! पहली बार ट्रांसजेंडर मुख्य भूमिका में आएंगी नजर
Vishu Kya Hota Hai: विशु क्या होता है ? मलयाली इसे नववर्ष के रूप में क्यों मनाते हैं, श्री कृष्ण से जुड़ी है आस्था
Haryana Crime In Hindi: ठेके के सेल्समैन से उधार मांग रहा था शराब ! फिर छिड़ा विवाद, सेल्समैन के साथी ने मार दी गोली
Mirzapur Vindhyavasini Temple: क्या है मां विंध्यवासिनी मंदिर और अष्टभुजा कालीखोह मन्दिर का इतिहास ! जानिए पौराणिक मान्यताओं के पीछे की कहानी

Follow Us