कानपुर अग्निकांड : माँ बेटी की जिंदा जलकर मौत, सरकार पर लगा ब्राह्मण विरोधी होने का आरोप

कानपुर देहात के रूरा थाना क्षेत्र के मड़ौली गांव में सोमवार को हुई अग्निकांड की घटना से सियासत तेज़ हो गई है. विपक्षी दल सरकार पर हमलावर है, सपा ने भाजपा सरकार को ब्राह्मण विरोधी कहा है.

कानपुर अग्निकांड : माँ बेटी की जिंदा जलकर मौत, सरकार पर लगा ब्राह्मण विरोधी होने का आरोप
कानपुर अग्निकांड

Kanpur News : कानपुर देहात में सोमवार को हुए अग्निकांड के बाद प्रदेश में सियासत तेज़ हो गई है. विपक्षी दल सरकार पर हमलावर हैं. समाजवादी पार्टी ने भाजपा सरकार को ब्राह्मण विरोधी बताया है. 

समाजवादी पार्टी के नेता मनोज पांडे ने बीजेपी सरकार पर ब्राह्मणों के खिलाफ अत्याचार का आरोप लगाया है. मीडिया  से बातचीत पर मनोज पांडे ने कहा कि ‘बिना किसी नोटिस के उस ब्राह्मण परिवार को सताया गया, जो बकरी पालकर अपना जीवन चलाता था. ये शर्म की बात है कि एक मां और बेटी को धूं-धूं कर जलना पड़ा. मानवता को शर्मसार करने वाली घटना है, जिसके लिए यह सरकार जिम्मेदार है.’

क्या है पूरा मामला..

कानपुर देहात जिले के रूरा थाना क्षेत्र के मड़ौली गांव में पुलिस-प्रशासन सोमवार को सरकारी जमीन से कथित अवैध कब्जा हटाने गया था. इसी दौरान एक महिला चिल्लाते हुए दौड़कर झोपड़ी में चली गई और उसने अंदर से दरवाजा बंद कर लिया. इसके बाद मौके पर उपस्थित पुलिस ने दरवाजा तोड़ दिया और इसी दौरान झोपड़ी में आग गई. महिला और उसकी बेटी अंदर थीं. पुलिस फोर्स और अफसरों के सामने दोनों की जिंदा जलकर मौत हो गई. वहीं, दोनों को बचाने में पति कृष्ण गोपाल बुरी तरह झुलस गए.

Read More: Banda Crime In Hindi: फतेहपुर बांदा सीमा पर बने पुल से महिला समेत दो बच्चे यमुना में कूदे ! तीनों की दर्दनाक मौत

मृतका के बेटे शिवम द्वारा एफआईआर में दी गई जानकारी के मुताबिक, 12 फरवरी, सोमवार को दोपहर 3 बजे वह अपने माता-पिता और बहन के साथ झोपड़ी में आराम कर रहे थे. झोपड़ी के अंदर 22 बकरियां भी थीं. इस दौरान एसडीएम मैथा जानेश्वर प्रसाद, कानूनगो मैथा, ग्राम मडौली के लेखपाल अशोक सिंह, थाना रुरा के एसएचओ दिनेश कुमार गौतम अपने 12 से 15 पुरुष-महिला सिपाहियों के साथ मौके पर पहुंचे. इनके साथ दीपक नामक जेसीबी ड्राइवर भी मौजूद था.

Read More: Unnao Bus Accident News: उन्नाव में भीषण सड़क हादसा 18 लोगों की मौत ! बड़ी संख्या में लोग घायल, देखें पूरी सूची

शिवम का आरोप है कि उनके माता-पिता और बहन को बिना सचेत किए ही झोपड़ी को गिरा दिया गया. शिवम का दावा है कि लेखपाल अशोक सिंह द्वारा आग लगवा दी गई और एसडीएम मैथा द्वारा कहा गया कि ‘आग लगा दो झोपड़ी में, कोई बचने न पाए.’ शिवम के अनुसार, किसी तरह से वह आग से बाहर निकले तो पुलिसकर्मियों ने उन्हें पीटा और फिर से आग के हवाले करने की कोशिश की. इस हादसे में शिवम की मां और बहन की मौत हो गई जबकि उनके पिता बुरी तरह से झुलस गए.शिवम ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है.

Read More: Unnao DSP Kripashankar Kanojiya: वाह रे CO साहब इश्कबाजी में बन गए सिपाही ! महिला कांस्टेबल के साथ होटल में धरे गए

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur Police Transfer: फतेहपुर में ताबड़तोड तबादले ! तहसीलदार पहुंचे किशनपुर, सावन आया कोतवाली Fatehpur Police Transfer: फतेहपुर में ताबड़तोड तबादले ! तहसीलदार पहुंचे किशनपुर, सावन आया कोतवाली
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में देर शाम एसपी उदय शंकर सिंह (IPS Uday Shankar Singh) ने ताबड़तोड़...
UP Shiksha Mitra News: फतेहपुर में शिक्षामित्रों का होगा कैंडल मार्च ! भावभीनी श्रद्धांजलि के साथ दिखेगा समर्पण भाव
Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व
Fatehpur News: फतेहपुर में क्यों हो रही है हिंदू महापंचायत ! हजारों की संख्या में पहुंचने का अनुमान
Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत
Fatehpur Brajesh Pathak: फतेहपुर पहुंचे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक क्यों भड़क उठे ! एक दिन का काटा वेतन
फतेहपुर थाना न्यूज़: मां-बेटे ने मिलकर पिता को लगाया 50 लाख का चूना ! तिकड़म जान कर रह जाएंगे भौचक्के

Follow Us