कौन हैं शुभेंदु अधिकारी जिनको भाजपा ने बनाया है ममता बनर्जी के खिलाफ उम्मीदवार

बीजेपी ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के लिए प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है, इस लिस्ट में एक नाम शुभेंदु अधिकारी का है जिन्हें भाजपा ने ममता बनर्जी के खिलाफ नंदीग्राम से टिकट दिया है.पढ़ें युगान्तर प्रवाह की रिपोर्ट.

कौन हैं शुभेंदु अधिकारी जिनको भाजपा ने बनाया है ममता बनर्जी के खिलाफ उम्मीदवार
शुभेंदु अधिकारी।फ़ाइल फ़ोटो

डेस्क:पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में पूरे देश की नज़र लगी है।इस बार के चुनाव में भाजपा ने ममता बनर्जी के खिलाफ पूरी ताकत झोंक रखी है।चुनाव की घोषणा होने के बाद पार्टियों द्वारा प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया जा रहा है।शनिवार को भाजपा ने भी अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है।हालांकि इस लिस्ट में बीजेपी ने अभी पहले औऱ दूसरे चरण के चुनाव के लिए ही उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है।Shubhendu adhikari

इस लिस्ट में एक नाम शुभेंदु अधिकारी का भी है जिनको बीजेपी ने नन्दीग्राम विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है यहीं से शुभेंदु वर्तमान में विधायक भी हैं।यह सीट सबसे अधिक हाई प्रोफाइल है क्योंकि ममता बनर्जी भी यहीं से चुनावी मैदान में उतरी हैं।इस लिए यह मुकाबला काफ़ी दिलचस्प होता नज़र आ रहा है।

कौन है शुभेंदु अधिकारी..

शुभेंदु अधिकारी ममता बनर्जी सरकार में नम्बर दो वाली स्थिति में थे उन्हें ममता बनर्जी के सबसे ख़ास सिपहसालार में एक माना जाता था लेकिन कुछ महीनों पहले ही अधिकारी ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस से बागी होकर भाजपा में शामिल हुए हैं।

Read More: Congress Bharat Nyay Yatra: 6200 किलोमीटर की कांग्रेस की 'भारत न्याय यात्रा'! मणिपुर से होगी यात्रा की शुरुआत

शुभेंदु अधिकारी को जनाधार वाले एक प्रभावशाली नेता के तौर पर जाना जाता है।शुभेंदु अधिकारी ने कांथी पीके कॉलेज से स्नातक किया और यहीं से राजनीतिक जीवन में कदम रखा था।वे 1989 में छात्र परिषद के प्रतिनिधि चुने गए। शुभेंदु 36 साल की उम्र में पहली बार 2006 में कांथी दक्षिण सीट से विधायक चुने गए।

Read More: Milind Deora Resign News: कौन हैं मिलिंद देवड़ा? जिन्होंने कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के शुरू होने से कुछ देर पहले ही दे दिया इस्तीफा

इसके बाद वे इसी साल कांथी नगर पालिका के चेयरमैन भी बने। शुभेंदु 2009 और 2014 में तुमलुक लोकसभा सीट से जीतकर संसद पहुंचे।उन्होंने 2016 में नंदीग्राम विधानसभा सीट से जीत दर्ज की।जिसके बाद ममता ने उन्हें अपनी सरकार में मंत्री भी बनाया।

Read More: Jharkhand Cm Champai Soren: काफी उठापटक के बाद 'चम्पई सोरेन' ने झारखंड के 12 वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ ! 10 दिन के अंदर बहुमत करना होगा सिद्ध

शुभेंदु अधिकारी ममता सरकार में परिवहन, जल संसाधन और विकास विभाग तथा सिंचाई एवं जलमार्ग विभाग मंत्री भी रहे। शुभेंदु पूर्वी मिदनापुर जिले के प्रभावशाली राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

शुभेंदु के पिता शिशिर अधिकारी तृणमूल कांग्रेस के संस्थापक सदस्यों में रहे। वे 1982 में कांग्रेस के टिकट पर कांथी दक्षिण सीट से विधायक भी रहे।शिशिर अधिकारी तुमलुक लोकसभा सीट से सांसद हैं। वे मनमोहन सिंह सरकार में ग्रामीण विकास राज्य मंत्री भी रहे। शुभेंदु के भाई दिव्येंदु अधिकारी कांथी लोकसभा सीट से सांसद हैं।

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Related Posts

Latest News

UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी
पेपर लीक का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब यूपी बोर्ड परीक्षा में पेपर लीक का मामला...
Anant Ambani-Radhika Pre Wedding: अनन्त अम्बानी-राधिका की प्री वेडिंग सेरेमनी में दुनिया भर से दिग्गजों का आना हुआ शुरू ! जानिए कौन-कौन हस्तियां हो रही इस भव्य समारोह में शामिल
Banshidhar Tobacco Company IT Raid: तम्बाकू कम्पनी के कानपुर समेत कई ठिकानों पर IT की रेड ! दिल्ली-गुजरात में भी छापेमारी, क्या-क्या मिला?
Mahashivratri 2024: कब हैं 'महाशिवरात्रि' का महापर्व? क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि ! जानिये पौराणिक महत्व
March Muhurat 2024: विवाह-गृह प्रवेश व मुंडन संस्कार के जान लीजिए मार्च माह के शुभ मुहूर्त और तिथि
Fatehpur Sadar Asptal: मैं मना करती रही और वो हथौड़ी चलाता रहा ! डॉक्टर की करतूत बताते हुए भावुक हो गई सिस्टर इनचार्ज
Cardiac Arrest Treatment: कार्डियक अरेस्ट आने पर नहीं मिलता है जान बचाने का मौका ! इसलिए हो जाइए सचेत

Follow Us