×
विज्ञापन

रायबरेली:पुलिस की पिटाई से दलित युवक की मौत..कोतवाली में हंगामा..!

विज्ञापन

यूपी के रायबरेली ज़िले में एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के बाद परिजनों ने पुलिस पर पीट पीट कर मार डालने का आरोप लगाया है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

रायबरेली:यूपी के रायबरेली ज़िले से पुलिस के अमानवीय व्यवहार की घटना सामने आई है।पुलिस पर आरोप है कि एक दलित युवक की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई है।दलितों ने देर शाम कोतवाली में पहुँच हंगामा मचाना शुरू कर दिया है।परिजनों का आरोप है कि युवक को पिछले तीन दिनों से पुलिस हिरासत में लिए हुए थी।आरोप है कि पुलिस की थर्ड डिग्री से युवक की मौत हो गई है। raibarely news

ये भी पढ़ें-लखनऊ डबल मर्डर:हाईस्कूल की छात्रा है हत्यारोपी बेटी..पूछताछ में किया चौंकाने वाला खुलासा.!

जानकारी के अनुसार लालगंज कोतवाली क्षेत्र 
के बेहटा कला गांव के मजरे पूरे बैजू गांव निवासी मोहित रैदास व उसके भाई सोनू को पुलिस 26 अगस्त की रात घर से एक चोरी के सिलसिले में पूछताछ के लिए उठा लाई थी।
पुलिस पर आरोप है कि हवालात में पुलिस ने मोहित की जमकर पिटाई की।सोनू को 28 अगस्त को पुलिस ने छोड़ दिया था लेकिन मोहित को अपनी हिरासत में रखा।बताया जा रहा कि शनिवार को उसकी तबियत बिगड़ गई जिसके बाद उसे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया था जहाँ मौत हो गई।

ये भी पढ़ें-UP:फतेहपुर में दर्दनाक हादसा..छत गिरने से नौ बच्चे दबे..तीन की मौत..6 घायल.!

मोहित की इस तरह से हुई अचानक मौत से परिजनों का गुस्सा पुलिस पर फूट पड़ा रविवार शाम इलाक़े भर के लोग कोतवाली में पहुँच हंगामा करने लगे।और पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि मौत पुलिस की पिटाई से हुई है।खबर यह भी आ रही है कि आक्रोशित दलितों के हंगामे को देखते हुए पीएसी बुलानी पड़ी भीड़ को तितर बितर करने के लिए लाठी चार्ज भी करना पड़ा है।खबर लिखे जाने तक दलित अभी भी भारी संख्या में कोतवाली के आस पास इकठ्ठा हैं। raibarely dalit youth death police custdy

इस मामले में एसपी स्वप्निल ने बताया कि युवक को एक मामले में थाने लाया गया था और उसके तबीयत खराब हुई तो उसको जिला अस्पताल में दिखाया गया।इसके दौरान उसकी मौत हुई है। बाकी जांच कराई जा रही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।