×
विज्ञापन

Pratapgarh News:भाजपा विधायक धीरज ओझा का DM आवास के बाहर हंगामा.फटी शर्ट लेकर कहा SP मार डालेगा मुझे।

विज्ञापन

यूपी के प्रतापगढ़ जिले के रानीगंज विधानसभा से विधायक अभय कुमार उर्फ धीरज ओझा ने बुधवार दोपहर को डीएम कार्यालय के बाहर जमकर हंगामा किया। इतना ही नहीं जिलाधिकारी आवास के बाहर धीरज कपड़े उतारकर सड़क पर लेट गए और कहने लगे ये SP मुझे मार डालेगा।पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट...Bjp MlA Abhay Kumar (Dhiraj Ojha)Protest Outside Pratapgarh DM Office

प्रतापगढ़(Pratapgarh News):यूपी का प्रतापगढ़ जिला आज उस समय सुर्खियों में आ गया जब भाजपा विधायक अभय कुमार उर्फ धीरज ओझा डीएम आवास के बाहर सड़क पर लेट गए और ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगे।इतना ही नहीं उन्होंने अपनी शर्ट तक उतार दी और ज़मीन पर लेटकर विलाप करने लगे। उनका आरोप था।कि एसपी प्रतापगढ़(Pratapgarh News)ने उनके साथ मारपीट की है और उनको मार डालने की धमकी दी है।

ये भी पढ़ें- UP Panchayat Chunav 2021: पंचायत चुनाव के लिए कितना जरूरी है चरित्र प्रमाण पत्र..फ़तेहपुर सीडीओ ने कही ये बात?

विज्ञापन
विज्ञापन

दरअसल भाजपा विधायक(BJP MlA)धीरज ओझा मतदाता सूची में अनिमितताओं का आरोप लगाकर अपने समर्थकों के साथ डीएम चेम्बर में धरने पर बैठे थे। बताया जा रहा है कि डीएम और एसपी के आने के बाद बन्द कमरे में कई मिनट हाई बोल्टेज ड्रामा भी हुआ इसके बाद जब विधायक जी बाहर निकले तो उनके शरीर पर शर्ट नहीं थी और वो फ़टी हुई थी। इसके बाद धीरज ओझा जोर जोर से चिल्लाने लगे और डीएम आवास के बाहर हंगामा करते हुए सड़क पर लेट गए। और लेटे हुए ही चिल्लाने लगे कि ये एसपी मुझे मार डालेगा। उसने मेरे साथ मारपीट की है। इरना देख विधायक के समर्थक वहां इकट्ठा होकर जोर शोर से नारे बाजी करने लगे। Bjp MlA Abhay Kumar (Dhiraj Ojha)Protest Outside Pratapgarh DM Office

कुछ समय बाद डीएम के साथ वो चेम्बर में चले गए। धीरज ओझा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि साजिश के तहत शिवगढ़ ब्लॉक में दबंगो के प्रभाव से वोटर लिस्ट से नाम हटवाए गए हैं। एसपी आकाश तोमर पर मारपीट का आरोप भी लगाते हुए कहा वो मुझे गोली मरवा सकते हैं। जबकि मेरी कोई लगती नहीं है। वहीं एसपी ने बातचीत के दौरान कहा कि जब विधायक जी वोटर लिस्ट में गड़बड़ी को लेकर धरने में बैठे थे।वो जबरन मुझसे ऐसा काम करवाना चाहते थे जिसके लिए मैंने मना किया जबकि उन सब चीजों से मेरा कोई लेना देना भी नहीं था। तो उन्होंने अपने समर्थकों के साथ मुझपर झूठा आरोप लगा दिया है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।