×
विज्ञापन

बिकरु कांड:हिंदी फिल्मों के इन खलनायकों से प्रभावित था विकास दुबे..इस डायलॉग को बोल करता था मर्डर.!

विज्ञापन

वैसे तो विकास दुबे का एनकाउंटर हुए काफ़ी वक़्त हो चुका है लेकिन उसके बारे में हर रोज़ नए नए खुलासे हो रहें हैं.ऐसा ही चौकाने वाला खुलासा अब हुआ है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

कानपुर:बिकरु कांड का मास्टरमाइंड व पुलिस एनकाउंटर में मारे जा चुके बदमाश विकास दुबे के बारे में हर रोज नए नए खुलासे हो रहें हैं।पुलिस गिरफ्त में विकास के एक गुर्गे गोपाल सैनी ने विकास के बारे में कुछ खुलासे किए हैं।पुलिस ने इन खुलासों को भी अपनी केस डायरी में दर्ज किया है।vikas dubey news

ये भी पढ़ें-बिकरु कांड:विकास दुबे की दस बीघे ज़मीन पर कब्ज़ा कर बो दी धान की फ़सल..प्रशासन के होश उड़े.!

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस की पूछताछ में गोपाल सैनी ने बताया कि विकास दुबे को फिल्मों का शौक़ था लेकिन वह फिल्मों के हीरो नहीं खलनायकों को पसंद करता था औऱ उन्हीं की तरह अपने साथियों के बीच डायलॉग बाजी करता था।गोपाल ने बताया कि सनी देओल की फ़िल्म अर्जुन पंडित देखने के बाद विकास ने भी अपने नाम के आगे पंडित जोड़ लिया था।फ़िल्म वेलकम में डॉन उदय शेट्टी के रोल में अभिनेता नाना पाटेकर से वह काफ़ी प्रभावित था और अपने साथियों के बीच में फ़िल्मी स्टायल में डॉन की तरह बातचीत करता व बैठता था।vikas dubey letest news

ये भी पढ़ें-फतेहपुर:घर के बाहर सो रहे व्यक्ति की गोलीमार कर हत्या.!

लेकिन सबसे ज़्यादा वह जिस फ़िल्म के विलेन से प्रभावित था वह शोले का गब्बर सिंह था।फ़िल्म में गब्बर सिंह का चर्चित डायलॉग 'जो डर गया समझो मर गया' विकास का फेवरेट था।

ये भी पढ़ें-UP:आधी रात को बॉयफ्रेंड से मिलने आ गई दिल्ली वाली गर्लफ्रेंड..औऱ फ़िर.!

विकास के शागिर्द गोपाल ने बताया कि गैंग के कई साथियों से जब मतभेद हुआ तो विकास दुबे ने उनकी हत्या की और उस उस दौरान उनको मारने से पहले जो डर गया समझो मर गया डायलॉग जरूर सुनाता।vikas dubey favorite film villain

इसके अलावा विकास को अपने नाम के आगे पीछे जैसे डॉन, दबंग, पंडित आदि टाइटल कहलवाने का बहुत शौक था।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।