×
विज्ञापन

UP:भ्रष्टाचारी एसपी और थानेदार पर दर्ज हुआ हत्या की कोशिस औऱ साज़िश का मुकदमा.!

विज्ञापन

महोबा के पूर्व एसपी मणिलाल पाटीदार और तत्कालीन थाना प्रभारी समेत कुछ लोगों के विरुद्ध व्यापारी की हत्या की साज़िश रचने और हत्या की कोशिस करने समेत गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है..पढ़ें पूरी ख़बर युगान्तर प्रवाह पर..

लखनऊ:निलम्बित हो चुके महोबा के पूर्व एसपी आईपीएस अधिकारी मणिलाल पाटीदार पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है।मणिलाल पाटीदार और एक दरोगा समेत कुछ लोगों के विरुद्ध व्यापारी की हत्या की कोशिश और हत्या की साज़िश रचने समेत कई गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। manilal patidar news

ये भी पढ़ें-UP:सस्पेंड हो चुके वसूलीबाज एसपी के विरुद्ध अब दर्ज हुई एफआईआर..!

महोबा के एक व्यापारी इन्द्रकांत त्रिपाठी ने 5 सितंबर को अपना एक वीडियो वायरल कर महोबा के एस पी मणिलाल पाटीदार पर आरोप लगाया था कि उनके दबाव में वो उन्हें 6 लाख रुपये महीना घूस दे रहे थे, लेकिन काम मंदा होने की वजह से उन्होंने एसपी से हर महीने 6 लाख रुपये देने में मजबूरी जताई तो उन्होंने उन्हें जान से मरवा देने की धमकी दी है। ips manilal patidar 

ये भी पढ़ें-UP:कोरोना किट घोटाले के बीच हटाए गए आठ जिलों के डीएम..कुछ और निशाने पर.!

इन्द्रकांत का महोबा में स्टोन क्रशर और माइनिंग के लिए विसफोटक सप्लाई का काम है।वीडियो वायरल करने के दो दिन बाद ही इन्द्रकांत को गोली मार दी गई। गोली उन्हें गर्दन में लगी है।उनकी हालत गंभीर है। वो इलाज के लिए कानपुर में भर्ती हैं। mahoba sp manilal patidar letest news

ये भी पढ़ें-UPPSC result 2018:फतेहपुर के आदर अदीब पॉवेल बंधु के पीसीएस अफ़सर बनने की कहानी.!

घटना के बाद एस पी मणिलाल पाटीदार को 9 तारीख को सरकार ने ससपेंड कर दिया था।कल देर रात उनके खिलाफ हत्या का प्रयास और हत्या की साज़िश करने के आरोप में महोबा में मुक़दमा दर्ज हो गया है।उनके साथ महोबा के कबरई थाना इंचार्ज देवेंद्र शुक्ल और इंद्रमणि के दो प्रतिद्वंदी व्यापारियों पे भी एफ़ आई आर हुई है।

ये भी पढ़ें-फतेहपुर:बाबा की कही एक बात ने ग्राम प्रधान की बेटी को बना दिया एसडीएम.!

उल्लेखनीय है कि मणिलाल पाटीदार को सरकार ने भ्रष्टाचार के मामले में सस्पेंड कर दिया था उनकी जाँच भी शासन द्वारा कराई जा रही है।इसके अलावा उनपर लखनऊ की भी एक कम्पनी ने रिश्वतखोरी के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया है।लगातार आपराधिक मुकदमें दर्ज होने के चलते अब पाटीदार के ऊपर गिरफ़्तारी की तलवार लटक रही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।