×
विज्ञापन

फतेहपुर:सगी बहनों की मौत का मामला..पुलिस औऱ परिजनों के दावे भिन्न..पोस्टमार्टम के लिए पैनल गठित.!

विज्ञापन

यूपी के फतेहपुर में सोमवार रात दो सगी बहनों के शव तालाब में मिले थे..परिजनों की तरफ़ से रेप के बाद हत्या किए जाने की आशंका व्यक्त की जा रही है, लेक़िन पुलिस इन दावों को ख़ारिज कर रही है..पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट..

फ़तेहपुर:सोमवार रात अशोथर थाना क्षेत्र के छिछनी गाँव में तालाब में मिले दो नाबालिग सगी बहनों के शवों के मामले में एसपी प्रशान्त वर्मा ने कहा है कि सोशल मीडिया में ऐसी भ्रामक सूचना फैलाई जा रही है कि दोनों शवों के हाँथ पैर बंधे थे और आँखे फोड़ी गई है।उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला तालाब में डूबने से मौत का प्रतीत हो रहा है।सत्यता की जाँच के लिए पैनल गठित कर दोंनों शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

परिजनों ने क्या कहा..

परिजनों द्वारा मीडिया में दिए गए बयान में कहा गया है कि दोनों बच्चियां सोमवार की दोपहर घर से चना का साग तोड़ने के लिए खेतों की ओर गई हुईं थी।रात को दोनों के शव तालाब में उतराते हुए मिले शवों के पुआल से हाँथ पैर बंधे हुए थे औऱ आँखे फूटी हुई थी।उन्होंने रेप के बाद हत्या किए जाने की बात कही है।साथ ही पुलिस पर आरोप लगाया है कि बिना परिवार वालों की मर्जी के ज़बरन शवों को पुलिस पोस्टमार्टम के लिए उठा ले गई है।Fatehpur ashothar news

सोमवार की रात नाबालिग सगी बहनों के शवो के मिलने से पूरे ज़िले में हड़कंप मचा हुआ है।परिजनों की तरफ़ किए जा रहे दावों से पुलिस के हाँथ पैर फूले हुए हैं।पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।हालांकि कुछ लोगों का यह भी मानना है कि जिस तालाब में बच्चियों के शव मिले हैं उसमें सिंघाड़े लगे हुए हैं।आंख में आई चोंटों की वजह सिंघाड़े में लगे कांटे हो सकते हैं।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।