×
विज्ञापन

फतेहपुर:भाजपा नेता द्वारा फेसबुक पर लगातार की जा रही ब्राह्मणों के खिलाफ अभद्र पोस्ट..लोगों में गुस्सा..!

विज्ञापन

ज़िले के एक कथित युवा भाजपाई नेता द्वारा एक के बाद एक कई आपत्तिजनक पोस्ट ब्राह्मणों के खिलाफ की गई हैं..जिसको लेकर लोगों में नाराजगी और गुस्सा बढ़ गया है..पढ़े पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर।

फतेहपुर:सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करने से लोग बाज नहीं आ रहे हैं।धार्मिक, साम्प्रदायिक और जातीय टिप्पणियों की भरमार दिनभर रहती है।ताज़ा मामला बीजेपी के एक नेता से जुड़ा हुआ है।

ये भी पढ़े-कोरोना:कानपुर में भर्ती रहे फतेहपुर के एक व्यक्ति की रिपोर्ट मौत के बाद आई पॉजिटिव..सील किया गया गाँव..!

भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित मोर्चा का कथित नगर अध्यक्ष मनोज पासवान बीते कुछ महीनों से हर रोज अपने फेसबुक एकाउंट से ब्राह्मणों को लेकर अमर्यादित पोस्ट लिख और शेयर कर रहा है।रविवार को कुछ लोगों इस नेता के पोस्टों के स्क्रीनशॉट लेकर विरोध दर्ज कराया।प्रशासन से कार्यवाही की मांग की।मामला बढ़ता देख मनोज ने अपने एकाउंट से सारी पोस्टों हटा दी हैं।

भाजपा का क्या कहना है..

इस मामले पर भाजपा जिलाध्यक्ष आशीष मिश्रा ने बातचीत करते हुए कहा है कि मनोज पासवान द्वारा सोशल मीडिया में इसप्रकार किए गए कृत्य के लिए नोटिस जारी की जा रही है। इसके उपरांत आगे कि कार्रवाई की जाएगी

भाजपा अनुसूचित मोर्चा के जिलाध्यक्ष देवनाथ धाकड़े ने जानकारी दी है कि जिलाध्यक्ष आशीष मिश्रा के निर्देश पर ब्राह्मणों पर ग़लत टिप्पणी करने वाले मनोज पासवान पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़े-कोरोना:फतेहपुर-गाँवो में पहुँच रहे परदेशियों ने बढ़ाई दहशत..बेरोक टोक घूम रहे..!

भाजपा के वरिष्ठ नेता धनंजय द्विवेदी ने युगान्तर प्रवाह से बातचीत करते हुए बताया कि मनोज पासवान को 2017 के विधानसभा चुनावों से कुछ पहले अनुसूचित मोर्चे का नगर अध्यक्ष बनाया गया था।लेक़िन कुछ दिनों बाद से ही मनोज की सोशल मीडिया पर पार्टी विरोधी बयानबाजी आनी शुरू हो गई थी।उन्होंने कहा कि यह काफ़ी समय से बीजेपी में पूरी तरह से निष्क्रिय है।

ये भी पढ़े-फतेहपुर:सावधान रहें!बोर्ड परीक्षा में पास करने के एवज में फ़ोन से पैसे मांग रहें हैं जालसाज..!

आपको बता दे कि अब तक पार्टी द्वारा यह स्पष्ट नहीं किया गया कि ऐसे पार्टी विरोध लोग किन मजबूरियों में अब तक पार्टी से निकाले नहीं गए और न ही पार्टी में उनके पद से कोई छेड़छाड़ हुई।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।