×
विज्ञापन

फतेहपुर किशनपुर नाव हादसा-दरोगा, सिपाही औऱ नाविक के शव हुए बरामद..!

विज्ञापन

शनिवार शाम किशनपुर थाना क्षेत्र के संगोलीपुर मड़ैयन घाट में यमुना में नाव पलट जाने से उसमें सवार एक दरोगा, सिपाही औऱ नाविक डूब गए थे..तीनों के शव रविवार सुबह बरामद हो सके हैं..पढ़े युगान्तर प्रवाह की ये रिपोर्ट।

फतेहपुर:ज़िले के किशनपुर थाना क्षेत्र अंर्तगत शनिवार देर शाम एक बड़ी दुर्घटना हो गई।लॉकडाउन का निरीक्षण करने नाव से किशनपुर थाने में तैनात उपनिरीक्षक रामजीत दो कांस्टेबलो निर्मल यादव और शशिकांत के साथ गए हुए थे।नाविक सहित जब यह चारो लोग यमुना नदी में बाँदा सीमा तक निरीक्षण कर वापस लौट रहे थे अचानक मौसम ख़राब हो गया।आसमान में बादल छा गए और तेज़ हवा चलने लगी।हवा के झोंके से नाव यमुना में पलट गई।और उसमें सवार चारो लोग डूबने लगे।

ये भी पढ़े-UP lockdown:फतेहपुर में बड़ा हादसा..यमुना में नाव पलटने से दोरोगा, सिपाही सहित तीन लोग डूबे..खोज जारी..!

कांस्टेबल निर्मल यादव तैरकर किसी तरह बाहर आ गए।नाव डूबते देख घाट किनारे मौजूद कुछ और ग्रामीण बचाने के लिए यमुना में कूदे इसी बीच थाने को भी सूचना दे दी गई।मौक़े पर डीएम एसपी भी पहुँच गए।देर रात तक गोताखोरों की मदद से ढूढ़ने का काम चालू था।बनारस और प्रयागराज से एनडीआरएफ की टीमें भी पहुँची लेकिन मौसम ख़राब होने औऱ रात के चलते किसी की भी तलाश नहीं की जा सकी थी। kishanpur boat accident

देर रात तक एसपी घाट किनारे मौजूद रहे।उन्होंने बताया कि खोजबीन जारी है लेकिन अब तक सफलता नहीं मिल सकी है।

अत्याधिक मौसम ख़राब हो जाने के चलते देर रात खोजबीन का काम रोक दिया गया था।रविवार भोर पहर से एक बार फ़िर से एनडीआरएफ की टीमें यमुना में कूदी।बड़े बड़े जाल रात से ही लगाए गए थे।रविवार सुबह क़रीब 9 बजे तक एक एक कर तीनों के शव बरामद हो सके।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।