×
विज्ञापन

फर्रुखाबाद:सपा जिलाध्यक्ष की तलाश में पुलिस की 6 टीमें कर रहीं हैं छापेमारी..दो नामज़द हुए गिरफ्तार.!

विज्ञापन

सपा जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फ़ारूक़ी सहित सभी आरोपियों की तलाश में तलाश में पुलिस की 6 टीमें लगातार दबिश दें रहीं हैं, शनिवार को पुलिस ने दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है. पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फर्रुखाबाद:सपा जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फ़ारूक़ी की मुश्किलें बढ़ती जा रहीं हैं।मुख्यमंत्री औऱ पुलिस पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में दर्ज हुई एफआईआर के बाद पुलिस की 6 टीमें आरोपियों की धरपकड़ के लिए लगी हुईं हैं।

ये भी पढ़ें-UP:सपा जिलाध्यक्ष नदीम अहमद फ़ारूक़ी पर कसा शिंकज़ा..फ़िर जाएंगे जेल.!

शनिवार को पुलिस ने नामजद दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।भाजपा नेता व नगर पंचायत के पूर्व चेयरमैन विजय गुप्ता ने शुक्रवार रात मुख्यमंत्री के खिलाफ अभद्र टिप्पणी व कस्बे में जुलूस निकाल कर शासन प्रशासन को सबक सिखाने की चुनौती देने के मामले में सपा जिलाध्यक्ष नदीम फारूकी, अब्दुल्ला, मुसब्बर,इलू, गुलजार, शकील उर्फ पप्पू, मन्ना, आजम, मसूद, शकेब, मेराज, एजाज, गुड्डू, नहीम, रेहान, आदिब पठान सहित 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।Farrukhabad news

सपा जिलाध्यक्ष पर आरोप है कि जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद उन्होंने घर के परिसर में अपने सैकड़ों समर्थकों के बीच पुलिस को जूते की नोंक पर रखने की बात कही थी।इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है।

शुक्रवार रात ही डीएम मानवेंद्र सिंह ने एसपी डॉ. अनिल मिश्रा के साथ बैठक कर कार्रवाई व कस्बे में शांति व्यवस्था बनाए रखने की रणनीति तैयार की है।पुलिस ने रात में दबिश देकर मोहल्ला कोटला निवासी रेहान, मोहल्ला काजी टोला निवासी मुसब्बर को गिरफ्तार कर लिया है।Farrukhabad nadeem ahmad faruqui

सपा जिलाध्यक्ष के सभी ठिकानों पर रात भर दबिशें दी गईं।शनिवार को पुलिस ने गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।एसओ शमसाबाद आर के रावत ने डेढ़ सेक्शन पीएसी व पुलिस के साथ शनिवार को रूटमार्च कर लोगों से शांति बनाए रखने को कहा कस्बे में जगह-जगह पुलिस व पीएसी का पहरा लगाया गया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ० अनिल कुमार मिश्रा नें बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिशे दी जा रहीं है,जल्द गिरफ्तारी की जायेगी।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।