×
विज्ञापन

UP:लगातार करते रहे उत्पीड़न..जब नहीं हुई माँग पूरी..खौफनाक वारदात को दे दिया अंजाम..!

विज्ञापन

यूपी के फर्रुखाबाद ज़िले से एक खौफनाक वारदात सामने आई है।यहाँ दहेज़ लोभियों ने एक नवविवाहिता की हत्या कर दी है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर।

फर्रुखाबाद:बेटियों पर अत्याचार कब तक होता रहेगा, शायद इसका जवाब किसी के पास नहीं है।बेटियों के साथ होती यौन हिंसा हो या शादी के बाद ससुराल में मिलती यातनाएं ये सब कुछ अब हमारे कथित सभ्य समाज का हिस्सा बन गया है।हर रोज अनगिनत ऐसी ही घटनाएं पूरे देश से सामने आती रहती हैं।ताज़ा मामला यूपी के फर्रुखाबाद ज़िले का है।जहाँ मंगलवार की सुबह एक नवविवाहिता का शव उसके बरामदे में पड़ा हुआ मिला है।आरोप है कि लड़की के ससुरालीजनों ने उसकी हत्या कर दी है।

ये भी पढ़ें-फर्रुखाबाद:एक घर की वजह से दो सालों तक तगड़ी समस्या से जूझ रहे थे ग्रामीण..प्रशासन ने किया निपटारा..!

जानकारी के अनुसार ग्राम सुभानपुर थाना अमृतपुर के रहने वाले लज्जाराम ने अपनी बेटी प्रज्ञा उर्फ सेवी(22) की शादी बीते साल मई 2019 में अनुज कुमार पुत्र दलवीर सिंह निवासी गढ़िया बबुरारा थाना नवाबगंज के साथ की थी।

मृतका के पिता लज्जराम ने बताया कि शादी के बाद से ही मेरी बेटी को उसका पति, सास, ससुर, जेठ और जेठानी और दहेज़ की माँग को लेकर प्रताड़ित करते थे।अब एक भैंस की माँग कर रहे थे।उन्होंने कहा कि बीती रात इन लोगों ने घर में झगड़ा किया और फिर मेरी बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी।सुबह हम लोगों को जब जानकारी हुई तो यहाँ आकर देखा बेटी का शव बरामदे में पड़ा हुआ था और ससुराल के सारे लोग फरार थे।

ये भी पढ़ें-मध्य प्रदेश के राज्यपाल लाल जी टण्डन का निधन..!

बताया जा रहा कि मृतका गर्भवती भी थी।उसके पेट में करीब 8 माह का भ्रूण पल रहा था।मौक़े पर अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह सहित, सीओ व पुलिस व फॉरेंसिक की टीमें पहुँची हैं।

अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने बताया कि नवविवाहिता का शव बरामदे में ज़मीन पर पड़ा हुआ मिला है।उन्होंने कहा कि आशंका है कि दहेज के लिए हत्या की गई है।पूरे मामले की जाँच की जा रही है दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।इस मामले में मृतका के पति, सास, ससुर समेत पाँच लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हो गया है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।