×
विज्ञापन

पत्रकार हत्याकांड:तेज़ हुई सियासत..निशाने पर योगी सरकार..अब तक क्या कुछ हुआ जानें..!

विज्ञापन

यूपी के बलिया ज़िले में सोमवार रात हुई पत्रकार रतन सिंह की हत्या का मामला गर्माता जा रहा है.. मंगलवार दोपहर पीड़ित परिवार से मिलने जा रहा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को रायबरेली सीमा पर पुलिस ने हिरासत में ले लिया है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

लखनऊ:प्रदेश में बिगड़ी क़ानून व्यवस्था को लेकर चौतरफ़ा घिरी योगी सरकार की मुशीबतें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं।सोमवार रात बलिया ज़िले में हुई पत्रकार रतन सिंह की हत्या का मामला गरमा गया है।

ये भी पढ़ें-crime in uttar pradesh:यूपी में देर रात बड़ी वारदात..टीवी चैनल के पत्रकार को बदमाशों ने गोलियों से भूना.!

मामले को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव सहित, यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू आप सांसद संजय सिंह ने क़ानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार को निशाने पर लिया है।मंगलवार को पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को रायबरेली में पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

ये भी पढ़ें-मनोरंजन:सपना चौधरी का यह फ़ोटो शूट बढ़ा रहा फैंस के दिलों की धड़कन.!

प्रदेश अध्यक्ष ने ट्वीट करते हुए लिखा कि-"बलिया के पत्रकार रतन सिंह की हत्या, बेगुनाहों की हत्या को बर्दाश्त नहीं करेंगे। पत्रकार रतन सिंह के परिजनों से मिलने जा रहा हूं,भाजपा सरकार की पुलिस ने सलोन टोल पर गाड़ी रोक दी है। पैदल जा रहा हूं। गुंडाराज पे लगाम लगाओ। तानाशाह होश में आओ"। balia journalist murder

हत्या के बाद से पूरे प्रदेश के पत्रकार भी आक्रोशित व आंदोलित हैं।जानकारी के अनुसार घटना के बाद रात में ही बलिया के पत्रकारों ने पुलिस के खिलाफ सड़क पर बैठ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया।

ये भी पढ़ें-फतेहपुर:आठ उपनिरीक्षकों के तबादले..कई चौकी इंचार्ज बदले.!

गौरतलब है कि एक न्यूज चैनल के लिए काम करने वाले पत्रकार रतन सिंह की बदमाशों ने उनके घर के बाहर घेरकर गोली  मारकर हत्या कर दी थी।पुलिस के मुताबिक इस मामले में 6 लोगों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है।

वहीं पूरे घटनाक्रम का संज्ञान लेते हुए सीएम योगी ने पत्रकार की हत्या पर गहरी सवेंदना व्यक्त करते हुए मृतक के परिजनों को दस लाख की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।