×
विज्ञापन

UP Crime News: बेटी को मारकर फ़रार हुए हत्यारोपी पिता का शव पेड़ पर लटका मिला

विज्ञापन

यूपी के फर्रुखाबाद में एक सनसनीखेज वारदात से हड़कम्प मच गया है,बेटी को मारकर फ़रार हुए हत्यारोपी पिता का शव मंगलवार की सुबह पेड़ पर लटका मिला है. Farrukhabad Crime News a father sucide after his daughter murder

Farrukhabad News: यूपी के फर्रुखाबाद ज़िले में एक सनसनीखेज वारदात घटित हुई है। सोमवार को जिस पिता ने अपनी बेटी की चाक़ू घोंपकर हत्या कर दी थी औऱ मौक़े से फ़रार हो गया था उसका शव अगले दिन यानी मंगलवार को सुबह गाँव के बाहर एक आम के बाग में पेड़ से लटका हुआ मिला है।Farrukhabad murder news

विज्ञापन
विज्ञापन

जानकारी के अनुसार कायमगंज कोतवाली क्षेत्र के गांव लहरारजा कुली राजपुर निवासी विनोद जाटव की पुत्री शिवानी (20) का हत्यायुक्त शव सोमवार को घर में पड़ा मिला था परिजन मौके से फरार हो गए थे।सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची।ग्रामीणों ने बताया कि सुबह पिता और पुत्री में किसी बात को लेकर विवाद हो गया था शिवानी की सूचना पर डायल 112 नंबर पुलिस आई और समझा बुझाकर चली गई थी।Farrukhabad Kayamganj murder news

इसके बाद घर में शव पड़ा देखा गया।युवती के पेट में चाकू लगा हुआ था।बताया गया कि युवती कहीं अपनी पसंद से शादी करना चाहती थी लेकिन पिता ने फर्रुखाबाद में शादी तय कर दी।इस पर विवाद रहता था।माँ की पहले ही मौत हो चुकी है।घर में पिता व छोटा भाई रहता था।घटना के बाद दोनों घर से फरार हो गए।पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है सूचना पर सीओ कायमगंज  राजवीर सिंह गौर अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह फॉरेंसिक टीम ने पहुंचकर नमूने एकत्रित किए थे पुलिस ने पिता के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश में जुटी हुई थी।

इधर मंगलवार की सुबह हत्यारोपी पिता विनोद की लाश गांव के पास आम के बाग में एक पेड़ पर फाँसी के फंदे पर लटकी हुई मिली।आशंका जताई जा रही है कि पिता ने फांसी लगा ली आत्महत्या कर ली है।लोगों ने पुलिस को सूचना दी है जिसके बाद मौक़े पर पहुँचीं पुलिस ने शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

ये भी पढ़ें- Farrukhabad news: राजस्व कर्मी से दरोगा की गुंडागर्दी ज़बरन थाने में बिठाया रिश्वत ले छोड़ा जांच शुरू.!

ये भी पढ़ें- Farrukhabad news:पुलिस ने पकड़ी अवैध शराब की बड़ी खेप चार तस्कर गिरफ्तार क़ीमत करीब 40 लाख!


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।