×
विज्ञापन

Dengue In UP : यूपी में तेज़ी से बढ़ रहे डेंगू के मरीज़, 3000 हज़ार से ज़्यादा नए केस, कैसे करें बचाव

विज्ञापन

यूपी में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है, पिछले 15 दिनों के भीतर 3 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले हैं. दो की मौत हो चुकी है, मच्छरों के चलते फैलने वाले इस संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगी हुईं हैं, लेक़िन आप भी बचाव कर सकते हैं.

Dengue Attack In UP : उत्तर प्रदेश में हर साल डेंगू के चलते हजारों लोगों की मौत हो जाती है. बरसात के मौसम डेंगू मरीजों की संख्या बढ़ जाती है. इस साल अक्टूबर महीने में हुई बरसात के चलते डेंगू के मरीजों की संख्या ( total dengue cases in up ) बढ़ती जा रही है. पिछले 15 दिनों के भीतर पूरे यूपी में आधिकारिक तौर पर 3000 से ज़्यादा मामले डेंगू के आए हैं. 

राजधानी लखनऊ के सरकारी अस्पतालों और चिकित्सा संस्थानों में भर्ती डेंगू मरीजों का आंकड़ा 100 के पार पहुंच गया है. इस समय 104 से ज्यादा मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं. कई अस्पतालों में तो डेंगू वार्ड फुल होने पर अतिरिक्त वार्ड बनाया गया है. मौजूदा समय में सबसे ज्यादा 55 मरीज लोकबंधु अस्पताल में भर्ती हैं. यहां एलाइजा जांच की सुविधा है और ओपीडी व इमरजेंसी में जांच हो रही है.

विज्ञापन
विज्ञापन

डेंगू के बढ़ते मामले को देखते हुए आज से लखनऊ में विशेष सफाई अभियान चलाया गया. डेंगू Dengue In UP और मलेरिया को देखते हुए प्रशासन ने सभी विद्यालयों को निर्देश दिए हैं कि बच्चों को पूरी आस्तीन के कपड़ों में ही बुलाया जाए. नगर निगम को दिन में दो बार सुबह और शाम फागिंग करने के निर्देश दिए गए हैं.

कैसे होता है डेंगू..

डेंगू मच्छर के काटने से होने वाली बीमारी है. डेंगू होने पर तेज बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होने लगता है.डेंगू में शरीर की प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगती हैं.इसमें मरीज को तुरंत अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत होती है,वरना समय पर इलाज ना मिलने के कारण मरीज की जान भी जा सकती है. डेंगू के लक्षणों को पहचानकर ही इसका इलाज किया जा सकता है.  Dengue Attack in UP

कैसे करें बचाव..

यह मच्छर जनित रोग है, इसके लिए जितना हो सके आप मॉस्किटो रेपलेंट्स, मच्छरदानी का इस्तेमाल करें. अपने घर के दरवाजे और खिड़कियों को शाम होने से पहले बदं कर दें. शरीर को पूरी तरह से कवर करने वाले कपड़े पहनें. सुनिश्चित करें कि आसपास पानी इकट्ठा ना हो.कूलर का पानी बदलते रहें.पानी को ढक कर रखें. बाहरी पक्षी या पालतू जानवरों के पानी को नियमित रूप से बदलते रहें.

ये भी पढ़ें- UP News : यूपी में मदरसा संचालकों में हड़कंप 800 फ़र्जी मिले जांच की डेट बढ़ी

ये भी पढ़ें- UP PET Exam 2022 : आज से शुरु हुई पीईटी की परीक्षा, 37 लाख से अधिक अभ्यर्थी हो रहें हैं शामिल, स्टेशन बस स्टॉप पर भारी भीड़

ये भी पढ़ें- Health News In Hindi : अचानक हो रही मौतों के पीछे की क्या है वजह, 40 दिनों में 7 मौतें, अचानक गिरे औऱ फिर नहीं उठे


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।