oak public school

Mahashivratri 2020:इस बार 117 साल बाद बन रहा है यह दुर्लभ संयोग..जानें क्या है व्रत और पूजन का शुभ मुहूर्त..!

इस साल महाशिवरात्रि पर 117 साल बाद ऐसा दुर्लभ संयोग बन रहा है,जो लोगों के लिए बहुत हितकारी होगा..महाशिवरात्रि पर्व इस साल 21 फरवरी को है..युगान्तर प्रवाह की इस रिपोर्ट में जानें..शुभ मुहूर्त और पूजन का समय..

Mahashivratri 2020:इस बार 117 साल बाद बन रहा है यह दुर्लभ संयोग..जानें क्या है व्रत और पूजन का शुभ मुहूर्त..!
सिद्धपीठ ताम्बेश्वर धाम फतेहपुर:फ़ोटो-युगान्तर प्रवाह

डेस्क:इस साल महाशिवरात्रि का पर्व 21 फरवरी दिन शुक्रवार को है।इस दिन भगवान शंकर के लिए व्रत और पूजा करने से भक्तों के सारे कष्ट दूर होते हैं।इस साल की महाशिवरात्रि पर ग्रहों का विशेष दुर्लभ संयोग बन रहा है।

क्या है शुभ मुहूर्त..

फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि का प्रारंभ 21 फरवरी दिन शुक्रवार को शाम 05 बजकर 20 मिनट से हो रहा है, जो 22 फरवरी दिन शनिवार को शाम 07 बजकर 02 मिनट तक रहेगा।शास्त्रों के अनुसार, महाशिवरात्रि व्रत अर्धरात्रिव्यापिनी चतुर्दशी तिथि में ही करना चाहिए, इसलिए इस वर्ष महाशिवरात्रि 21 फरवरी को मनाई जाएगी। आप सभी को व्रत 21 को ही रखना चाहिए। (mahashivratri shubh muhurat)

ये भी पढ़े-UP Board Exam 2020:अंतिम दिनों में ऐसे करें फ़टाफ़ट तैयारी..पा सकतें हैं अच्छे अंक..!

Read More: Oceanography News: समुद्रशास्त्र के अनुसार शरीर के अंगों की बनावट से झलकता है व्यक्ति का स्वभाव

महाशिवरात्रि का व्रत रखने वाले लोगों को 22 फरवरी दिन शनिवार को पारण के साथ व्रत खोलना चाहिए। महाशिवरात्रि व्रत के पारण का समय 22 फरवरी को सुबह 06 बजकर 54 मिनट से दोपहर 03 बजकर 25 मिनट तक है। आप 06 बजकर 54 मिनट के बाद कभी भी पारण कर सकते हैं। (mahashivratri kab h)

Read More: Aaj Ka Rashifal 21 फरवरी 2024: इस राशि वाले आज वाहन से रहें सावधान ! जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal

क्या है वह दुर्लभ संयोग..

Read More: Aaj Ka Rashifal 20 फरवरी 2024: इस राशि वालों को लापरवाही भारी पड़ सकती है ! जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal

इस बार महाशिवरात्रि पर शनि अपनी स्वयं की राशि मकर में और शुक्र ग्रह अपनी उच्च राशि मीन में रहेगा। ये एक दुर्लभ योग है, जब ये दोनों बड़े ग्रह शिवरात्रि पर इस स्थिति में रहेंगे। 2020 से पहले 25 फरवरी 1903 को ठीक ऐसा ही योग बना था और शिवरात्रि मनाई गई थी। (mahashivratri 2020)

शिवरात्रि पर गुरु भी अपनी स्वराशि धनु राशि में स्थित है। 21 फरवरी को सर्वार्थ सिद्धि योग भी रहेगा। पूजन के लिए और नए कार्यों की शुरुआत करने के लिए ये योग बहुत ही शुभ माना गया है। इस दिन शनि चंद्र का विष योग बनेगा। ये दोनों ग्रह मकर राशि में रहेंगे। बुध और सूर्य कुंभ राशि में एक साथ रहेंगे, जिससे बुध-आदित्य योग बनेगा। इस दिन राहु मिथुन राशि में और केतु धनु राशि में रहेगा। शेष सभी ग्रह राहु-केतु के बीच रहेंगे, जिससे सर्प योग बनेगा।

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

AmarNath Yatra Registration 2024: अमरनाथ यात्रा के लिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन ! जान लीजिए पूरे नियम AmarNath Yatra Registration 2024: अमरनाथ यात्रा के लिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन ! जान लीजिए पूरे नियम
अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) को लेकर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 15 अप्रैल यानी आज से शुरू हो रही हैं. इसके साथ...
Chaitra Navratri Kanya Pujan: कन्या पूजन में रखें इन बातों का रखें ध्यान ! बचें इन गलतियों को करने से
Chaitra Navratri 2024 Parana Time: चैत्र नवरात्रि पारण कब है? क्या है व्रत खोलने का नियम, जानिए शुभ मुहूर्त डेट
Ipl Super Sunday: सुपर सन्डे के पहले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स की जीत, वानखेड़े में रोहित का शतक न आया काम, सीएसके की शानदार जीत
Jalaun Crime In Hindi: ट्यूशन टीचर ने हैवानियत की हद की पार ! नाबालिग छात्रा के साथ कर डाली दरिंदगी, अश्लील वीडियो बनाकर करता था ब्लैकमेल
Crime In Kanpur: कानपुर में मौलाना 14 साल की लड़की के साथ करता रहा रेप, प्रेग्नेंट होने पर खिला दी गर्भपात की दवा
Kanpur FIR News: एसीपी को चैलेंज व आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में सपा विधायक और लोकसभा प्रत्याशी समेत 200 पर मुकदमा

Follow Us