oak public school

मौसम:क्या है नौतपा जिसके चलते आग उगलने लगा है सूरज..!

सम्पूर्ण उत्तर मध्य भारत इन दिनों भीषण गर्मी से जूझ रहा है।भारतीय ज्योतिषशास्त्र के अनुसार 25 मई से नौतपा शुरू हो गए हैं..जिसके चलते अगले नौ दिनों तक भयंकर गर्म पड़ने वाली है..पढ़े युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट।

मौसम:क्या है नौतपा जिसके चलते आग उगलने लगा है सूरज..!
प्यास बुझाता बच्चा,फ़ोटो-नीरज पटेल।

लखनऊ:इन दिनों सूरज आसमान से आग उगलने लगा है।सम्पूर्ण उत्तर मध्य भारत में भयंकर वाली गर्मी की शुरुआत हो गई है।मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार गर्मी से फिलहाल राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।अगले कुछ दिनों तक पारे में बढ़ोतरी जारी रहेगी।

ये भी पढ़े-कोरोना:फतेहपुर में सोमवार को भी जारी रहा मरीज़ो के बढ़ने का सिलसिला..!

गर्मी बढ़ने का एक कारण 25 मई से शुरू हुए नौतपा भी हैं।ज्योतिष के अनुसार इस समय के 9 दिन भयंकर गर्मी के होते हैं।क्योंकि इन नौ दिनों के दौरान सूर्य पृथ्वी के सबसे नजदीक होता है।

क्या है नौतपा..वैज्ञानिक कारण भी जानें..

Read More: Navratri Ke Totke Upay: नवरात्रि में अद्भुत है लौंग का ये प्रयोग ! धन की कमी होगी पूरी

ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार, सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करने से नौतपा का आरंभ माना जाता है और इसकी शुरुआत होते ही प्रचंड गर्मी पड़ना शुरू हो जाती है। इस साल 25 मई से सूर्य रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेंगे और 8 जून तक इसी नक्षत में रहेंगे। इस अवधि के शुरुआती 9 दिनों में सर्वाधिक गर्मी पड़ती है और इस कारण इसे नौतपा कहते हैं।

Read More: Aaj Ka Rashifal 19 फरवरी 2024: इस राशि के जातकों के जीवन में होगी धन वर्षा ! ऐसे मिलेगी सफलता, जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal

मान्‍यता के मुताबिक, सूर्य अपने चक्‍कर लगाते हुए इसी वक्‍त रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करता है। इसकी अवधि 15 दिन की होती है। शुरू के नौ दिन भयानक गर्मी पड़ती है।

Read More: Aaj Ka Rashifal In Hindi: इस राशि के जातक को कोई दुखद समाचार मिल सकता है ! जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal

ये भी पढ़े-CBSE Exam 2020:दशवीं औऱ बारहवीं की स्थगित हुई परीक्षाओं को लेकर आई है,ये बड़ी ख़बर..!

नौतपा के चलते पड़ने वाली भीषण गर्म के पीछे ज्योतिष के साथ साथ वैज्ञानिक कारण भी है।क्योंकि भारत के ठीक बीचों-बीच से होकर कर्क रेखा गुजरती है। आठ राज्‍यों को काटती हुई यह इमैजिनरी लाइन मौसम के लिहाज से बड़ी अहम है। मई-जून वह वक्‍त होता है जब सूरत की किरणें सीधी इस रेखा पर पड़ती हैं। जब धूप सीधे पड़ेगी तो गर्मी बढ़ना स्‍वाभाविक है। इसके अलावा सूरज और धरती के बीच बनने वाला ऐंगल भी भारत में गर्मी के लिए जिम्‍मेदार है। इस ऐंगल के आधार पर ही तय होता है कि धूप कितनी तीव्रता से धरती पर आएगी।

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन
यदि आप भी गूगल पिक्सल स्मार्टफोन (Google Pixel Smartphone) के लवर हैं तो यह खबर आपके लिए है जी हां...
Upsc Vishal Dubey Success Story: हवलदार पिता का सपना पूरा कर बेटा बनेगा आईपीएस अफसर
Kanpur Accident News: फतेहपुर से कानपुर बारादेवी देवी जा रही पिकप हादसे का शिकार ! तीन लोगों की मौत, बड़ी संख्या में लोग घायल
Fatehpur IAS Success Story: फतेहपुर के दो होनहारों ने बढ़ाया जिले का मान ! क्रैक की यूपीएससी परीक्षा
Prayagraj Crime In Hindi: प्रयागराज के बंद कमरे में महिला पुरूष कांस्टेबल के शव ! पुलिस महकमे में हड़कंप, आखिर क्या हुआ
Upsc Topper Donuru Ananya Reddy Success story: यूपीएससी में ऑल इंडिया रैंक 3 हासिल करने वाली डोनुरू अनन्या रेड्डी की सफलता की कहानी ! क्रिकेटर विराट कोहली से है प्रभावित
Upsc Pawan Kumar Success Story: आर्थिक स्थिति से लड़ते हुए छप्पर में रहने वाले किसान के बेटे पवन कुमार ने UPSC में मारी बाजी ! परिवार में छाई खुशी

Follow Us