Dhirendra Shastri Shivranjani : कौन हैं शिवरंजनी ! जो बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर 'प्राणनाथ' को बताएंगी अपने मन की बात

शिवरंजनी कौन है जो उत्तराखंड के गंगोत्री से अपने प्राणनाथ के लिए कलश में गंगा जल लेकर 1 हज़ार 280 किलोमीटर की यात्रा पर पैदल निकल पड़ी है. आखिर किसे वह अपना प्राणनाथ मानती है. आखिर शिवरंजनी गंगोत्री से गंगाजल लेकर बागेश्वर धाम की यात्रा पर क्यों निकली है.इसके पीछे क्या वजह है यह शिवरंजनी 16 जून को बागेश्वर धाम पहुंचकर क्या करने वाली है...

Dhirendra Shastri Shivranjani : कौन हैं शिवरंजनी ! जो बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर 'प्राणनाथ' को बताएंगी अपने मन की बात
कौन है शिवरंजनी जो धीरेंद्र शास्त्री को मानती हैं प्राणनाथ : फोटो गूगल

हाईलाइट्स

  • शिवरंजनी गंगोत्री से जल लेकर पैदल यात्रा पर निकली बागेश्वर धाम के लिए
  • शिवरंजनी बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेन्द्र शास्त्री से विवाह का संकल्प
  • 1048 किलोमीटर की पैदल यात्रा में महोबा पहुंची शिवरंजनी,अब मंजिल कुछ दूर

Who Is Shivranjani Tiwari Dhirendra Shastri : मध्यप्रदेश सिवनी जिले की रहने वाली 20 वर्षीय शिवरंजनी इस वक्त चर्चा का विषय बनीं हुई है. उत्तराखंड के गंगोत्री से कलश में गंगा जल लेकर बागेश्वर धाम तक पैदल यात्रा पर निकल पड़ी है. आप सभी सोच रहे होंगे आख़िर शिवरंजनी बागेश्वर धाम तक इतनी गर्मी में पैदल यात्रा क्यों कर रही है. इसके पीछे क्या वजह हो सकती है. तो चलिए इस रहस्य से फिलहाल पर्दा उठाते हैं. 

आख़िर कौन हैं शिवरंजनी (Shivranjani Badheshwar Baba Connection)

दरअसल शिवरंजनी मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के बड़ी चन्दौरी की मूल निवासी है, पिता बैजनाथ तिवारी दिवंगत संत स्वरूपानन्द सरस्वती के परिवार से आते हैं.वे हरिद्वार में हीरो हांडा प्लांट में सिविल इंजीनियर के पद पर कार्य कर रहे हैं.तबसे वह हरिद्वार में ही शिफ्ट हो गए.

शिवरंजनी बचपन से ही भजन में काफी रुचि रखती थी और धीरे-धीरे अध्यात्म की ओर उसका रुझान बढ़ने लगा और कथा के साथ भजन भी गाने लगी. हालांकि ऐसा बताया जाता है कि शिवरंजनी एमबीबीएस की छात्रा भी है. 

Read More: Varuthini Ekadashi 2024: आज है वरुथिनी एकादशी ! भगवान के वराह स्वरूप के पूजन का है बड़ा महत्व

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर बसे मन में

Read More: Narsimha Jayanti 2024: कब है नरसिंह जयंती ! भक्त प्रह्लाद की रक्षा और राक्षस हिरण्यकश्यप के अत्याचारों का अंत करने के लिए भगवान ने धारण किया नरसिंह अवतार

शिवरंजनी हमेशा बागेश्वर धाम की कथाओं को बड़े ही मन से सुनती है.बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जिन्हें बागेश्वर सरकार कहा जाता है, उन्हें सोशल मीडिया पर फॉलो भी करती है.अब आप सोच रहे होंगे कि शिवरंजनी प्राणनाथ किसे कहती है..

Read More: Pradeep Mishra Radha Rani Controversy: राधा रानी टिप्पणी पर फंसे कथावाचक प्रदीप मिश्रा ! Premanand Maharaj ने दिया करारा जवाब

बागेश्वर सरकार पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri) को मन ही मन शिवरंजनी अपना प्राणनाथ मानती है और विवाह का प्रस्ताव लेकर उनके दर्शन के लिए निकल पड़ी हैं. अपने प्राणनाथ से मिलने के लिए कठिन परीक्षा को चुना है. गंगोत्री से कलश में गंगाजल लेकर सर पर कलश रख शिवरंजनी ने पिता के साथ 1 मई से पैदल यात्रा शुरू कर दी है. हर दिन 30 से 40 किलोमीटर यात्रा कर रही हैं.

इस भीषण गर्मी में शिवरंजनी पैदल यात्रा कर रही हैं वो जहां पहुंच रही हैं लोगों ने उनका पारम्परिक ढंग से स्वागत भी किया. चित्रकूट पहुंचते ही साधु संत भी उसके साथ यात्रा पर निकल पड़े. शिवरंजनी अब बागेश्वर धाम छतरपुर जिले से करीब 70 किलोमीटर पहले महोबा जिले में भी प्रवेश कर चुकी है जहां उनका मंगल गीतों से स्वागत किया गया.

16 जून को आखिर क्या होने वाला है

महोबा जिला शिवरंजनी पहुंच चुकी हैं अब यानी इंतजार की घड़ियां जल्द ही समाप्त होने वाली है. 16 जून को बागेश्वर धाम में क्या होने वाला है यह तो उसी दिन पता चलेगा. हालांकि पिता बैजनाथ तिवारी ने बताया कि हां यह बात सही है कि शिवरंजनी के विवाह की बात भी पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के परिवार वालों से की जाएगी.

प्राणनाथ जानते हैं मेरे मन की बात (Shivranjani Tiwari)

वही शिवरंजनी ने भी साफ किया कि यह सब उन्हीं की कृपा है जो इतने दूर से चलकर यहां तक पहुंचे हैं. कई बार शिवरंजनी ने मन मोहने वाली पंक्तियों को भी सबके सामने रखा, जिसमें मन ही मन कहीं न कहीं पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के लिए शादी का जिक्र था.फिलहाल शिवरंजनी के मन में क्या चल रहा है..

यह शिवरंजनी ने साफ कर दिया कि मेरे प्राणनाथ को सब पता है कि मेरे मन मे क्या चल रहा है. 16 जून को आप लोगों खुद ही पता चल जाएगा. हालांकि ऐसी सूचना मिली है कि 15 जून से धीरेन्द्र शास्त्री जी एकांतवास में जा रहे हैं ,फिर भी शिवरंजनी बागेश्वर धाम तक वहां पहुंचकर बाला जी के दर्शन करेगी, जल चढ़ाएगी और पीठाधीश्वर से अपने मन की बात रखेगी.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व
Somnath jyotirlinga Story: ज्योर्लिगप्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में से गुजरात के सोमनाथ मंदिर की अद्भुत महिमा है. कई बार आक्रमण करके...
Fatehpur News: फतेहपुर में क्यों हो रही है हिंदू महापंचायत ! हजारों की संख्या में पहुंचने का अनुमान
Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत
Fatehpur Brajesh Pathak: फतेहपुर पहुंचे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक क्यों भड़क उठे ! एक दिन का काटा वेतन
फतेहपुर थाना न्यूज़: मां-बेटे ने मिलकर पिता को लगाया 50 लाख का चूना ! तिकड़म जान कर रह जाएंगे भौचक्के
Fatehpur News: फतेहपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौ'त ! परिजनों ने लगाया ह'त्या का आरोप
UPSC EPFO APFC Result 2024: फतेहपुर की विप्लवी बनी असिस्टेंट कमिश्नर ! गांव में ख़ुशी की लहर, जानिए लोगों ने क्या कहा

Follow Us