×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: ब्राह्मणों के आशीर्वाद के बिना कोई नहीं बना सकता सरकार इतिहास है गवाह

विज्ञापन

बहुजन समाज पार्टी यूपी विधानसभा चुनाव में ब्राह्मणों को अपने पक्ष में करने के लिए हर सम्भव प्रयास में जुटी हुई है. बाँदा में बड़ी चुनावी बैठक में शामिल होने जा रहे प्रदेश संयोजक पूर्व मंत्री अनीस मंसूरी औऱ कोआर्डिनेटर राजेन्द्र गौतम ने फतेहपुर में रुककर युगान्तर प्रवाह से ख़ास बातचीत करते हुए बसपा के चुनावी मुद्दों पर बात की. Fatehpur up news bsp leader anish mansuri

Fatehpur News: यूपी विधानसभा चुनावों के लिए सभी राजनीतिक दल जोर शोर से तैयारियों में जुट गए हैं।इस बार यूपी की राजनीति के केंद्र बिंदु में ब्राह्मण वोट बैंक है सभी ब्राह्मणों को अपने पक्ष में करने के लिए जुटे हुए हैं। बसपा प्रबुद्ध सभा के नाम पर ब्राह्मण सम्मेलन करने में जुट गई है।इसकी कमान पार्टी महासचिव औऱ राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्रा सम्भाले हुए हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

बसपा के प्रदेश संयोजक व पूर्व मंत्री अनीश मंसूरी औऱ कोआर्डिनेटर राजेंद्र गौतम बुधवार को बाँदा में होने वाली बसपा की प्रमुख चुनावी बैठक में शामिल होने के लिए जाते वक़्त फतेहपुर में रुककर दोनों नेताओं ने युगान्तर प्रवाह से ख़ास बातचीत की।

अनीस मंसूरी ने ब्राह्मणों के सवाल पर कहा कि बिना ब्राह्मणों के सत्ता तक पहुँचना नामुकिन है इतिहास गवाह है ब्राह्मण जिसके साथ रहा है वही सत्ता पर काबिज हुआ है।उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों का सम्मान औऱ सरकार में हिस्सेदारी बसपा में ही सम्भव है। 2007 के चुनाव में जब बहन मायावती मुख्यमंत्री बनी थीं तो सबसे ज्यादा ब्राह्मण विधायक बने थे।अभी भी बसपा सुप्रीमो का कहना है कि ब्राह्मण समाज का मान सम्मान बसपा में ही सुरक्षित है।

उन्होंने मौजूदा योगी सरकार पर ब्राह्मण समाज की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि योगी राज में एक विशेष जाति के लोगों को ही आगे बढ़ाने का प्रयास किया गया, अच्छे पदों पर उसी जाति के लोग बिठाए गए औऱ ब्राह्मण समाज के लोगों को महत्वहीन पदों पर बिठाया गया। उनके एनकाउंटर कराए गए।

स्टेट कोआर्डिनेटर राजेन्द्र गौतम ने कहा कि मौजूदा सरकार से जनता त्रस्त हो चुकी है। बसपा की तरफ़ सभी समाज के लोग आशा के साथ देख रहें हैं। 2022 में मायावती प्रदेश की पांचवीं बार मुख्यमंत्री बनेंगी।

ये भी पढ़ें- BSP Candidate: बसपा ने घोषित कर दिए विधानसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों के नाम जान लें!

ये भी पढ़ें- Uttar Pradesh News: मायावती के दो बड़े क़रीबी नेताओं की बसपा से छुट्टी किए गए निष्कासित.!


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।