फतेहपुर:प्रधान के खिलाफ ग्राम पंचायत सदस्यों ने खोला मोर्चा..हलफनामा देकर अविश्वास की मांग!

ग्राम प्रधान की नीतियों से नाराज होकर पंचायत के सदस्यों ने प्रधान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग की है..पढ़े पूरी ख़बर विस्तार से युगान्तर प्रवाह पर।

फतेहपुर:अक्सर ग्राम प्रधानों के ऊपर पंचायतो के विकास के लिए आए सरकारी धन को हड़पने और भ्रष्टाचार करने के आरोप लगते रहें हैं।जिसको लेकर ग्रामीण कई बार शिकायते भी करते हैं।लेक़िन इस बार मामला थोड़ा सा अलग है।
हंसवा विकास खण्ड के गेंडुरी ग्राम के पंचायत सदस्यों ने प्रधान के ऊपर आरोप लगाते हुए यह कहा है कि उनको पंचायत सदस्य होने के नाते एक बार भी किसी भी तरह की ग्राम सभा की मीटिंग में शामिल नहीं किया गया है और न ही उनको गाँव मे हुए विकास कार्यों का ब्यौरा दिया गया है।

ये भी पढ़े-फ़तेहपुर:चार चोर दो दुकानदार और आठ फ़रार..पढ़े चोरों का गैंग कैसे करता था चोरी..और कहां बेंचे जाते थे ज़ेवरात.!

बुधवार दोपहर विकास भवन पहुंचे गेंडुरी ग्राम के सात पंचायत सदस्यों ने अलग अलग हलफनामा देकर ग्राम प्रधान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग की।
अविश्वास प्रस्ताव की मांग कर रहे पंचायत सदस्यों ने  युगान्तर प्रवाह से बातचीत करते हुए यह बताया कि ग्राम प्रधान तेज बहादुर का बर्ताव बेहद ही ख़राब है।उन्होंने बताया कि ग्राम प्रधान नियम और कानून को ताक पर रखकर प्रधानी कर रहा है,गाँव मे कराए जा रहे विकास कार्यो को लेकर पंचायत सदस्यों के नाते हमारा यह अधिकार है कि हमारे हस्ताक्षर विकास कार्यो को कराने से पहले बनाई जाने वाली कार्ययोजना के रजिस्टर में होने चाहिए लेक़िन प्रधान द्वारा आज तक ऐसा नहीं किया गया है और हम लोगों के फर्जी हस्ताक्षर बनाकर धांधली की जा रही है।
आपको बता दे कि हंसवा विकास खण्ड के गेंडुरी ग्राम पंचायत में कुल 11 सदस्य हैं जिनमें से 7 सदस्यों में अविश्वास प्रस्ताव की मांग की है।

इस मामले पर युगान्तरप्रवाह से बातचीत करते हुए डीपीआरओ अजय आनंद सरोज ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है।ग्राम पंचायत सदस्यों की तरफ़ से ग्राम प्रधान के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव की मांग की गई है।जिसके बाद आगे की जो भी विधिक कार्यवाही होगी वो जिला प्रशासन द्वारा की जाएगी।

फतेहपुर:मंत्री जी.!जिला अस्पताल में हर मर्ज की दवा है पैरासिटामाल..प्रभारी मंत्री के सामने मरीज ने खोली सदर में व्याप्त अव्यवस्थाओ की पोल..सीएमओ को कड़ी फटकार!
Loading...
Comment As:

Comment (0)

-->