श्री कृष्ण जन्माष्टमी 2020:जन्मस्थान मथुरा में आज जन्म लेंगे नटखट गोपाल..तैयारियां पूरी..!

पूरे देश में कृष्ण जन्मोत्सव जन्माष्टमी की धूम चल रही है।जन्मस्थान मथुरा में 12 अगस्त बुधवार को मध्य रात्रि में भगवान का प्राकट्य होगा..इसको लेकर मंदिरों को पूरी तरह से सजा दिया गया है..पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट..

डेस्क:भगवान श्री कृष्ण जन्मोत्सव जन्माष्टमी का त्योहार पूरे देश में धूम धाम से मनाया जा रहा है।तिथि और रोहणी नक्षत्र को लेकर बनी स्थिति के चलते देश के कई हिस्सों में जन्माष्टमी का व्रत मंगलवार 11 अगस्त को भी बड़ी धूमधाम से मनाया गया।बड़ी संख्या में लोग बुधवार को भी जन्माष्ठमी व्रत और उत्सव मना रहे हैं।

ये भी पढ़ें-जब मैं मर जाऊं तो मेरी अलग पहचान लिख देना..लहू से मेरी पेशानी में हिंदुस्तान लिख देना.!

श्री कृष्ण जन्मस्थान मथुरा, बरसाना औऱ व्रन्दावन के बांके बिहारी मंदिर में बुधवार को कृष्ण जन्म उत्सव मनाया जा रहा है।मथुरा में कृष्ण जन्माष्टमी को लेकर हर साल की तरह इस साल भी जोर शोर से तैयारी की गई है।हालांकि कोरोना वायरस के चलते इस साल श्रद्धालुओं के दर्शन पर रोक रहेगी।

श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास के सचिव कपिल शर्मा ने बताया कि श्रीकृष्ण-जन्मभूमि के संपूर्ण परिसर को कलात्मक रूप से सजाया जा रहा है। कोरोना से उत्पन्न परिस्थिति एवं इसके निर्मूलन के लिए सरकार द्वारा जारी किये गए दिशा-निर्देशों के अनुपालन में श्रद्धालुओं का मंदिर में प्रवेश प्रतिबंधित है। पत्र, पुष्प, रत्न प्रतिकृति, वस्त्र आदि के अद्भुद संयोजन से बनाये गये 'पुर्णेन्दु-कुंज'  बंगले में विराजमान हो ठाकुरजी मनोहारी स्वरूप में दर्शन देंगे। पत्र, पुष्प, काष्ठ आदि से निर्मित इस बंगले की छठा और कला अनूठी होगी।

ये भी पढ़ें-जन्माष्टमी 2020:किस दिन मनाना श्रेष्ठ रहेगा..11 या 12 अगस्त..जानें शुभ मुहूर्त व विधि विधान..!

बुधवार  को प्रात: शहनाई एवं नगाड़ों के वादन के साथ भगवान की मंगला आरती के दर्शन होंगे। तदोपरान्त भगवान का पंचामृत अभिषेक किया जायेगा एवं ठाकुरजी के प्रिय स्त्रोतों  का पाठ एवं पुष्पार्चन होगा। प्रात: 10:00 बजे भागवत-भवन में युगल सरकार श्रीराधाकृष्ण के श्रीविग्रह के श्रीचरणों में दिव्य पुष्पांजलि का कार्यक्रम संपन्न होगा। भजन गायक राजीव चोपड़ा  ठाकुरजी के समक्ष परंपरागत  पद एवं भजनों का गायन करेंगे।

ये भी पढ़ें-कोरोना वैक्सीन:बड़ी खुशखबरी..रूस ने मारी बाज़ी..पुतिन की बेटी को लगा पहला टीका..!

श्री कृष्ण जन्मस्थान पर जन्माष्टमी महोत्सव के तहत श्री कृष्ण जन्म महाभिषेक कार्यक्रम बुधवार को रात 11 बजे शुरू हो जाएगा। 11 बजे से श्री गणेश जी, नवग्रह, पुष्प सहस्त्रार्चन शुरू हो जाएगा जो 11:55 बजे तक चलेगा। प्राक्टय दर्शन हेतु 11:55 से 11:59 तक पट बंद रहेंगे। रात्रि 12:00 बजे  भगवान के प्राकट्य के साथ संपूर्ण मंदिर परिसर में शंख, ढोल-नगाड़े, झॉंझ-मंजीरे और मृदंग बज उठेंगे और  कन्हैया के जन्म की प्राकट्य आरती शुरू होगी। शंख एवं ढोल, मृदंग आदि अभिषेक स्थल पर तो बजेंगे ही साथ-ही-साथ  सपूर्ण मंदिर परिसर में स्थान-स्थान पर दिव्य ध्वनि सुनाई देगी।  प्राकट्य आरती 12 से 12:05 तक चलेगी। जन्म महाभिषेक स्वर्ण मंडित रजत गौ द्वारा 12 बजे से 12:20 बजे तक होगा। जन्म महाभिषेक रजत कमल द्वारा 12:20 से 12:30 तक शृंगार रात्रि 12:40 बजे से 12:50 बजे तक होगी। शयन आरती रात 1 बजे होगी।

मथुरा से जन्मोत्सव का सीधा प्रसारण डी डी नेशनल सहित विभिन्न चैनलों पर दिखाया जाएगा।इसके लिए मंदिर में विशेष तैयारी की गई है।

Chhath Puja:हर तरफ़ छठ पूजा की धूम.आज है तीसरा दिन..डूबते सूरज को दिया जाएगा अर्घ्य.!
Loading...
Comment As:

Comment (0)

-->