शारदीय नवरात्रि2019:माँ चंद्रघंटा को इस विधि विधान से पूजा कर करें प्रसन्न..!

आज शारदीय नवरात्रि का तीसरा दिन है।इस दिन माता रानी के तीसरे स्वरूप माँ चन्द्रघण्टा की पूजा होती है..क्या है शुभ मुहूर्त और कैसे करें पूजा..पढ़े युगान्तर प्रवाह की इस रिपोर्ट में।

नवरात्रि विशेष:आज नवरात्रि का तीसरा दिन है।इस दिन माता के तीसरे स्वरूप माँ चन्द्रघण्टा की पूजा होती है।मान्यताओं के अनुसार मां चंद्रघंटा की पूजा करने से आर्थिक परेशानियां खत्म होती हैं।

इस विधि विधान से करें पूजा..

सबसे पहले प्रात: सामान्य पूजा, यज्ञ करें।यज्ञ करने के बाद ही कन्या पूजन होता है।आज लाल रंग के वस्त्र पहनकर पूजा करें। लाल रंग का धागा भी पहन सकते हैं।आज दुर्गा सप्तशती में चौथे अध्याय का पाठ करें।पाठ के लिए उपयुक्त समय सुबह 11:47 से 12:34 के बीच है।पाठ करते समय दीपक प्रज्ज्वलित रखें।

ये भी पढ़े-शारदीय नवरात्रि 2019:बारह वर्षों बाद बन रहा है ऐसा शुभ संयोग..भक्तों पर बरसेगी भगवान शिव और गौरी की कृपा.!

घर में आर्थिक संकट या अन्य कोई समस्या है तो मां चंद्रघंटा की पूजा करें।8 वर्ष से छोटी कन्या को भोजन देने से कृपा बरसेगी।

ये भी पढ़े-मां ब्रह्मचारिणी की ऐसे करें पूजा..!

भोजन में दूध, दही, पनीर जरूर हो।ऐसा करने से घर की स्थिति संभलेगी।रोज शाम को चमेली के तेल का दीपक जलाएं।मां चंद्रघंटा, दुर्गा की किसी भी रूप में उपासना करें।

नवरात्रि के तीसरे दिन का ज्योतिषी महत्व:

यदि आपके मन में किसी तरह का कोई भय बना रहता है तो आप मां के तीसरे स्वरूप चंद्रघंटा का पूजन करें। नवरात्रि का तीसरा दिन भय से मुक्ति और अपार साहस प्राप्त करने का होता है। मां के चंद्रघंटा स्वरुप की मुद्रा युद्ध मुद्रा है। ज्योतिष शास्त्र में मां चंद्रघंटा का संबंध मंगल ग्रह से माना जाता है।

नवरात्रि विशेष:आज कालरात्रि स्वरूप में होंगे माँ दुर्गा के दर्शन..इस मंत्र का करें जप.!
Loading...
Comment As:

Comment (0)

-->