फर्रूखाबाद:चुनावी रंजिश में चली गोली..मौक़े पर पहुँची पुलिस पर भी महिलाओं ने बरसाए पत्थर.!

गुरुवार देर रात शमशाबाद थाना क्षेत्र के पहाड़पुर बैरागढ़ में पंचायत चुनाव की रंजिस में वर्तमान प्रधान व पूर्व प्रधान के बीच झगड़ा हो गया.सूचना पर पहुँची पुलिस पर भी पूर्व प्रधान के घर की महिलाओं ने पत्थर बरसा दिए..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फर्रुखाबाद:गुरुवार देर रात चुनावी रंजिश में वर्तमान प्रधान के घर पूर्व प्रधान व उनके परिवारीजनों ने  फायरिंग कर दी।सूचना पर पहुंची नवाबगंज थाने की पीआरवी 2659 के सिपाही राकेश कुमार व आरक्षी चालक भी पत्थर लगने से घायल हो गए।मामला शमशाबाद थाना क्षेत्र का है।Farrukhabad news

जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के गांव पहाड़पुर बैरागढ़ में पंचायत चुनाव की रंजिश और आगामी चुनाव में वर्चस्व को लेकर पूर्व प्रधान व वर्तमान प्रधान के बीच आए दिन झगड़े होते रहते हैं।इसी को लेकर गुरुवार देर रात पूर्व प्रधान रक्षपाल शाक्य व वर्तमान प्रधान पति हरिश्चंद्र यादव के बीच फ़िर से झगड़ा हो गया और मामला मारपीट से फायरिंग तक पहुँच गया। Farrukhabad crime news

बताया जा रहा है कि गुरुवार को रक्षपाल के चचेरे भाई की बरात लौट कर आई थी।रात में घर पर लोग डीजे पर नाच रहे थे इसी दौरान कुछ लोग हर्ष फायरिंग करने लगे औऱ कुछ फायर नजदीक ही स्थित ग्राम प्रधान के घर की तरफ़ झोंक दिए।

फायरिंग से घर की महिलाएं भयभीत हो गई प्रधान के पुत्र राकेश कुमार ने इसका विरोध किया तो उसके साथ दूसरे पक्ष ने हाथापाई की।उसने मौके से भाग कर अपनी जान बचाई और तुरंत डायल 112 पर फोन कर घटना की सूचना दी।Farrukhabad fairing news

मौक़े पर पहुँची पीआरवी  के सिपाहियों ने पहले ग्राम प्रधान के घर जाकर शिकायत के बारे में जानकारी ली और उनके घर में पड़े हुए बुलेट के छर्रे व खाली बुलेट की वीडियो  बनाई।इसके बाद सिपाही पूर्व प्रधान के घर गए और वहां पर भी माहौल की वीडियोग्राफी शुरू कर दी।

जिससे वहां मौजूद लोग नाराज हो गए और महिलाएं उग्र हो गईं उन्होंने  सिपाहियों पर पत्थर बरसा दिए।पत्थर लगने से पीआरवी का एक सिपाही राकेश घायल भी हुआ है।माहौल बिगड़ता देख  पीआरवी ने घटना की सूचना थाना शमशाबाद को दी सूचना पर थानाध्यक्ष फोर्स के साथ मौक़े पर पहुंचे और महिलाओं को समझाने का प्रयास किया लेकिन महिलाएं और भी उग्र हो गई।इसी दौरान पुलिस ने लोगों को डंडा पटक वहां से खदेड़ भीड़ को नियंत्रित किया।attack on fatehgarh police

इस बीच शुक्रवार को थाने के दरोगा विक्रम सिंह व अमित शर्मा के ऊपर उपद्रव मचाने वाली महिलाओं ने आरोप लगाए गए हैं।आरोप के बारे में दरोगा विक्रम सिंह ने बताया पीआरबी द्वारा थानाध्यक्ष को सूचना दी गई जिस पर थाना अध्यक्ष के साथ हम लोग मौके पर गए और भीड़ को समझा-बुझाकर वहां से शांत किया मेरे ऊपर लगाए गए आरोप असत्य व निराधार है।प्रभारी थाना अध्यक्ष राजेंद्र कुमार रावत ने बताया देर रात फायरिंग की सूचना पर गांव गए थे कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

फतेहपुर:मॉब लिंचिंग का शिकार हुआ विकास..पेड़ से बांधकर हुई पिटाई..हालत गम्भीर.!
Loading...
Comment As:

Comment (0)

-->